उत्तरकाशी : भागीरथी में समाया वाहन, 12 लोगों की लापता होने की खबर

0
  •  भागीरथी में समाया वाहन, 12 लोगों की लापता होने की खबर

उत्तरकाशी: गंगा दशहरा पर्व पर देव ढोल के साथ स्नान के लिए गंगोत्री जा रहे अठाली गांव के ग्रामीणों का वाहन सुनगर-गंगनानी के बीच अनियंत्रित होकर भागीरथी नदी में समा गया। इसमें चालक व दो बच्चों सहित 12 लोग सवार बताए जा रहे हैं। वाहन और सवारियों का पता नहीं लग पाया था। देर रात तक रेस्क्यू टीमें खोजबीन में जुटी रही। हादसे के बाद ग्रामीणों ने यात्रा रद कर दी।

भटवाड़ी ब्लाक के अठाली गांव के ग्रामीण छह वाहनों में गत दो जून को नागराजा की डोली लेकर दो धामों की यात्रा पर निकले थे। रविवार सुबह यमुनोत्री में दर्शनों के वे सभी गंगोत्री के लिए रवाना हुए। लेकिन, शाम करीब साढ़े पांच बजे गंगनानी के निकट हेलगू गाड के पास इनमें शामिल बोलेरो वाहन अनियंत्रित होकर भागीरथी में जा समाया। पीछे से आ रहे यात्रियों ने इसकी सूचना जिला प्रशासन व पास की पुलिस चौकी को दी।

करीब 40 मिनट बाद मनेरी व भटवाड़ी से पुलिस व एसडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंची, लेकिन नदी का बहाव तेज होने के कारण रेस्क्यू डेढ़ घंटे बाद शुरू हो पाया। कुछ देर बाद एसपी ददन पाल व एडीएम पीएल शाह भी मौके पर पहुंच गए।

बाद में सेना व आइटीबीपी की टीम भी वहां पहुंच गई। देर रात तक दुर्घटनाग्रस्त वाहन और उसमें सवार लोगों का कुछ भी पता नहीं चल पाया था।

मनेरी थाना के एसआइ दीप कुमार ने बताया कि दुर्घटनाग्रस्त वाहन में तीन परिवारों के 12 लोग सवार हैं। इनमें दो सात लोग एक ही परिवार के हैं। उनके अनुसार ग्रामीणों ने सवार लोगों के नाम देव सिंह राणा (60) पुत्र इंदर सिंह, सुनील राणा (22) पुत्र श्याम सिंह, प्रवेश परमार (22) पुत्र शिवपाल, जितेंद्र सिंह राणा (24) पुत्र गोविंद सिंह, अनुराग राणा (19) पुत्र गोविंद सिंह राणा, पुष्पा राणा (22) पुत्री जितेंद्र सिंह, कविता (28) पत्नी विजेंद्र सिंह, शैला राणा (36) पत्नी राजेंद्र सिंह, बिंद्रा देवी (56)पत्नी देवेंद्र सिंह राणा, अनामिका (07) पुत्री विजेंद्र, मनीषा (13) पुत्री राजेंद्र (सभी निवासी अठाली) और मातली निवासी चालक गिरीश नौटियाल (28) बताए हैं।

 

Loading...