उत्तराखंड: पंचायत में बड़ा बवाल, ग्रामीणों ने तोड़ा भाजपा नेत्री का हाथ!

0
आपको बता दें कि जौलजीवी में दारमा घाटी के दांतू ग्राम पंचायत के ग्रामीणों की माइग्रेशन में जाने से पहले बैठक बुलाई गई थी। इस बैठक में गांव की विभिन्न समस्याओं के साथ साथ पंचेश्वर बांध से उनके गांव को होने वाले नुकसान और प्रभावितों को जमीन सहित मुआवजा को लेकर भी चर्चा होनी थी। स्थानीय लोगों का कहना है कि बैठक में केवल दांतू गांव के ग्रामीण ही बुलाए गए थे।

ग्रामीणों का आरोप है कि बैठक में भाजपा जिला मंत्री लीला बंग्याल भी मौजूद थी। जबकि दूसरे गांव की होने के कारण उन्हें नहीं बुलाया गया था। बैठक में पंचेश्वर बांध की चर्चा होने पर वह भड़क गईं। इसी दौरान ग्रामीण और भाजपा नेत्री आमने-सामने आ गए। ग्रामीणों का कहना है कि लीला बंग्याल मोबाइल फोन पर वीडियो बना रही थीं। ग्रामीणों ने इसका विरोध किया तो उन्होंने दो बुजुर्ग महिलाओं के साथ अभद्रता की और चप्पल दिखाई। जिस पर ग्रामीणों ने रोष जताया।

 

दूसरी तरफ भाजपा जिला मंत्री लीला बंग्याल का कहना है कि उसे बैठक में बुलाया गया था। पंचेश्वर बांध को लेकर सरकार पर आरोप लगाते चंदा एकत्रित करने की बात हो रही थी। जिसका उसने विरोध किया तो कुछ लोगों ने उसके साथ मारपीट की जिससे उसके हाथ और पेट में सूजन आया है। इस मामले में दोनों पक्षों द्वारा पुलिस को तहरीर दी गई है। पुलिस का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है। अभी तक किसी के खिलाफ कोई रिपोर्ट दर्ज नहीं की गई है।

Loading...