उत्तराखंड विधानसभा का विशेष सत्र की हंगामेदार शुरूआत

0

देहरादून: बंदे मातरम के गायन के साथ उत्तराखंड विधानसभा का विशेष सत्र शुरू हो गया है। सत्र शुरू होते ही खाद्यान्य की बढ़ी कीमतों पर विपक्ष ने जमकर हंगामा किया।

प्रश्नकाल से पहले ही नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश ने एपीएल के लिए खाद्यान्न की कीमत में वृद्धि का मामला उठाया। यह मुद्दा नियम 58 में सुना जाएगा। वहीं कांग्रेस विधायक प्रीतम पंवार ने पर्वतीय क्षेत्र में स्वास्थ्य सेवा बेहतर करने के लिए क्या कार्ययोजना है। संसदीय कार्य मंत्री प्रकाश पंत ने इस मामले में जवाब दिया।

उन्होंने बताया कि सरकार पर्वतीय क्षेत्र में आईपीडी ओर ओपीडी के लिए सुविधा दे रही है। इसके साथ ही उन्हीने बताया कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य नीति के तहत कार्य किये जा रहे है। चिक्तिस्य सेवाओ की दरों में मामूली वृद्धि की जा रही है। साधारण चिकित्सको के पद भरने के लिए चयन बोर्ड को अधियाचन भेजा गया है। डेंटल के लिए परीक्षा हो चुकी है। इस पर प्रीतम पंवार ने कहा कि वैकल्पिक व्यबस्था की जा रही है या नही, दुर्गम भत्ता देने की क्या व्यवस्था है। पंत ने कहा कि सरकार लगातार इस और प्रयास कर रही है।

इससे पहले एंग्लो इंडियन एमएलए जार्ज मेन को विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने शपथ दिलाई। उत्तराखंड माल और सेवा कर विधेयक (जीएसटी) को लेकर बुलाए गए विधानसभा के दो दिवसीय विशेष सत्र में कुल तीन विधेयक पेश होंगे। इनमें उत्तराखंड आकस्मिकता निधि अधिनियम (संशोधन) विधेयक और उत्तराखंड सहकारी समिति (संशोधन) विधेयक शामिल हैं।

इनके अलावा बीते सत्र में लौटाया गया एक विधेयक पुनर्विचार के लिए लाया जाएगा। पूर्व में पारित चार विधेयकों को अधिनियम बनाने की घोषणा की जाएगी।

विधानसभा के दो दिनी विशेष सत्र में एसजीएसटी समेत तीन विधेयक पेश किए जाएंगे। इसके अलावा सदन में पिछले सत्र में लौटाया गया सरदार भगवान सिंह विश्वविद्यालय, उत्तराखंड विधेयक पुनर्विचार के लिए सदन में रखा जाएगा।

इस दौरान पिछले सत्र में पारित उत्तराखंड विनियोग (लेखानुदान) विधेयक, 2017, उत्तराखंड निक्षेपक (जमाकर्ता) हित संरक्षण (वित्तीय अधिष्ठानों में) (संशोधन) विधेयक, श्री गुरू राम राय विश्वविद्यालय विधेयक व क्वांटम विश्वविद्यालय विधेयक के अधिनियम बनने की घोषणा की जाएगी।

इस बार सत्र के दौरान पूछे जाने वाले सवालों की संख्या काफी कम है। अभी तक दो सवाल शामिल किए गए हैं। सत्र के पहले दिन विधायक उत्तरकाशी गोपाल सिंह रावत सदन में तीन याचिका भी पेश करेंगे।

 

Loading...