मलबे की चपेट में दबकर कार सवार तीन की मौत, मासूम की तलाश जारी

0
demo pic

उत्तरकाशी: मौसम की करवट उत्तराखंड पर भारी पड़ी है। तेज बारिश के चलते गंगोत्री हाईवे पर भूस्खलन हो गया। जिसके मलबे की चपेट में आने से मां-बेटी समेत तीन लोगों की मौत हो गई है।

उत्तरकाशी के जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी देवेंद्र पटवाल ने बताया कि दोपहर बाद शुरू हुई बारिश के साथ ही उत्तरकाशी से दस किलोमीटर दूर हाईवे पर दो स्थानों पर पहाड़ से मलबा गिरने लगा। इससे दोनों ओर करीब दो दर्जन वाहन फंस गए। एक स्थान से मलबा हटा दिया गया है, लेकिन दूसरे स्थान पर सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) की टीम मलबा हटाने में जुटी है। इस बीच एक ऑल्टो कार सड़क किनारे रुकी और मलबा गिरते देख उसमें सवार तीन लोग जान बचाने के लिए भागे। इस बीच भारी मात्रा में मलबा उनके ऊपर गिर गया।

आसपास के लोगों के साथ ही वहां मौजूद एसडीआरएफ की टीम ने बचाव कार्य शुरू किया। मलबा इतना अधिक था कि हटाने में टीम का खासी मशक्कत करनी पड़ी। टीम ने मलबे से दो शव निकाल लिए हैं। आसपास के लोगों ने इनकी पहचान राकेश रावत पुत्र तेज सिंह रावत और कविता पत्नी नवीन (28 वर्ष) के रूप में की। जबकि कविता की तीन वर्षीय बेटी सृष्टि की तलाश की जा रही है। बताया जा रहा है कि कविता अपनी बहन की शादी के लिए खरीदारी कर उत्तरकाशी से भटवाड़ी के पास अपने गांव सिल्ला जा रही थी।

Loading...