तय समय से 2 दिन पहले मॉनसून की बारिश में भीगा केरल

0

तिरुवनंतपुरम: भीषण गर्मी से परेशान लोगों और देश भर के किसानों के लिए खुशखबरी है. मॉनसून केरल और उत्तर पश्चिम में पहुंच गया है. इस बार यह समय से दो दिन पहले दस्तक दी है. भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के डायरेक्टर जनरल केजे रमेश की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि इस बार मॉनसून ने केरल के अलावा उत्तर पूर्व में भी समय से पहले दस्तक दी है. समय पर मॉनसून आने के चलते किसान काफी खुश हैं. सोमवार को भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने बयान जारी कर कहा था कि दक्षिण पश्चिम मॉनसून मंगलवार को केरल में दस्तक दे सकता है. मौसम विभाग की भविष्यवाणी सच साबित हुई है.

आईएमडी ने कहा कि केरल के अलावा लक्षद्वीप, तटीय कर्नाटक, तमिलनाडु के कुछ हिस्सों और पूर्वोत्तर राज्यों के अधिकांश हिस्सों में भी मॉनसून पहुंच गया है. आईएमडी के दिल्ली कार्यालय के अनुसार, आमतौर पर जून के प्रथम सप्ताह में केरल में मॉनसून दस्तक देता है. आईएमडी के अधिकारी एम. महापात्रा ने कहा, “केरल के लिए इसके पहले का अनुमान पांच जून था.” केरल में मॉनसून पहुंचने की सामान्य तिथि पहली जून है, और 2005 से आईएमडी ने तिथि के लिए संचालनगत अनुमान जाहिर करने शुरू किए.

इस बीच, बंगाल की खाड़ी पर बने चक्रवाती तूफान मोरा कोलकाता के दक्षिण-दक्षिण पूर्व 660 किलोमीटर पर स्थित था और मंगलवार को वह बांग्लादेश का चटगांव पार कर जाएगा. आईएमडी ने अंडमान द्वीप समूह और पश्चिम बंगाल तट से लगे इलाकों में मंगलवार को मौसम खराब रहने का अनुमान जाहिर किया है.

Loading...