टिहरी: मौत के बाद भी दुनिया देखेगी प्रियंका

0

टिहरी: भिलंगना ब्लॉक में तैनात गेस्ट टीचर युवती बरेली में हुए दर्दनाक हादसे में घायल हो गर्इ। जिसके बाद शुक्रवार दोपहर को लखनऊ के एक अस्पताल में उनकी मौत हो गई। मृतका प्रियंका वर्मा के परिजनों ने उनकी आंखें दान कर दीं।

टिहरी जिले के भिलंगना ब्लॉक के राइंका कुमसीला में कार्यरत लक्ष्मण वर्मा की बेटी प्रियंका वर्मा राइंका कठूड़ हिंदाव में गेस्ट टीचर के पद पर कार्यरत थीं। बीते रविवार को बरेली में वह अपने पिता के साथ समीक्षा अधिकारी की परीक्षा देने गई थी, लेकिन वहां एक हादसे में बिजली का खंभा प्रियंका के ऊपर गिर गया। इसमें वह गंभीर रूप से घायल हो गई। प्रियंका के सिर और पैर में गंभीर चोटें आई। इसके बाद उन्हें लखनऊ के अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

शुक्रवार दोपहर को प्रियंका का अस्पताल में निधन हो गया। प्रियंका की मौत की खबर सुनते ही जिले भर के गेस्ट टीचर में मातम पसर गया। प्रियंका की साथी गेस्ट टीचर दुर्गा गुनसोला ने बताया कि प्रियंका बहुत अच्छी टीचर थीं और अपने व्यवहार से सभी उसे पसंद करते थे। उसके पढ़ाने का तरीका बहुत अच्छा था। प्रियंका की पढ़ाई पौखाल इंटर कॉलेज में हुई थी और वह अपने सपनों को साकार करने के लिए परीक्षा देने बरेली गई थी। लेकिन वहां पर एक छोटी से लापरवाही ने उसकी जिंदगी छीन ली।

Loading...