मातम में बदल गई होली, देवभूमि में दर्दनाक सड़क हादसे में 8 लोगों की मौत

    0

    शुक्रवार के दिन पूरा देश होली के रंगों में रंग रहा था। होली के त्योहार को यादगार बनाने के लिए उसमें प्यार का रंग डाला जा रहा था। इसी बीच हिमाचल से आई एक घटना ने सभी को आहत किया। हिमाचल प्रदेश के बिलासपुर जिले में चंडीगढ़-मनाली नेशनल हाइवे पर शुक्रवार सुबह एक प्राइवेट वाहन के घाटी में गिरने से 8 लोगों की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि सभी श्रद्धालु थे। वाहन में नौ लोग सवार थे।

    पुलिस द्वारा जानकारी मिली है कि सभी लोग पंजाब के रहने वाले थे। स्थानीय लोगों की सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस के साथ स्थानीय़ लोगों ने भी रेस्क्यू किया।नेशनल हाईवे 21 पर हुए इस दर्दनाक हादसे में 8 लोगों की मौत हो गई। इस दुर्घटना में एक व्यक्ति के घायल होने की सूचना है। मिली जानकारी के मुताबिक, हाईवे पर तेज रफ्तार में जा रही कार पर से ड्राइवर नियंत्रण खो बैठा और कार पहाड़ पर सड़क से सीधे नीचे गहरी खाई में जा गिरी।

    बिलासपुर क्षेत्र में स्वरघाट में घटी इस दुर्घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस पहुंची और राहत बचाव कार्य में जुट गई। मृतकों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा जा रहा है और एक घायल को इलाज के लिए अस्पताल में भेजा गया है। हादसे में मारे गए लोगों की शिनाख्त करने की कार्रवाई पुलिस कर रही है।

    बताया गया कि सभी श्रद्धालु अमृतसर शहर के समीप काले घनपुर गांव के रहने वाले थे, यह सभी कुल्लू जिले के मणिकरन स्थित सिखों के प्रसिद्ध मंदिर से प्रार्थना कर घर लौट रहे थे। यह दुर्घटना राज्य की राजधानी से 120 किलोमीटर की दूरी पर स्वारघाट के समीप हुई। मृतकों के अलावा एक व्यक्ति को गंभीर चोटें आई हैं और उसे नालागढ़ के एक सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

    पुलिस के एक अधिकारी ने बताया, ‘मरने वालों में से अधिकतर संगठित परिवार से ताल्लुक रखते थे।’ प्रत्यक्षदर्शियों ने कहा कि इनोवा वाहन में जरूरत से ज्यादा सवारी थी और चालक ने मोड़ पर गाड़ी मोड़ते वक्त संभवत: संतुलन खो दिया होगा। एक प्रत्यक्षदर्शी ने कहा, ‘बचानेवालों में अधिकतर स्थानीय ही थे, जिन्हें मृतकों को वाहन से बाहर निकालने में काफी मशक्कत करनी पड़ी।’

    Loading...