ज्यादा काम कर जताया रोष, बिरोध का अपनाया नया तरीका

0

कर्मचारियों ने अब आंदोलन का नया तरीका अपना लिया है। अब वह कार्य बहिष्कार कर सरकारी काम काज को बाधित करने के बजाए एक घंटा अतिरिक्त काम कर रहे हैं। कर्मियों का कहना है कि जब तक उनकी मांगों पर सकारात्मक कार्रवाई नहीं होती तब तक अतिरिक्त काम के साथ उनका आंदोलन जारी रहेगा।

जिले के राजस्व कर्मचारियों ने एक घंटा अतिरिक्त कार्य करना शुरू कर दिया है। शुक्रवार शाम को वे एक घंटा अतिरिक्त कार्य कर चुके हैं। शनिवार को भी उन्होंने अपना यह संकल्प आगे बढ़ाया। राजस्व कर्मचारी संगठन के अध्यक्ष रमेश चंद्र जोशी का कहना है कि हड़ताल के साथ ही कर्मचारी काम करना भी जानता है। वेतन विसंगतियों को ठीक करने, वाहन तथा यात्रा भत्ता आदि मांगों को लेकर उनकी लड़ाई जारी है। हड़ताल से अच्छा विकल्प है सिस्टम को आइना दिखाना। कर्मचारियों का यह आक्रोश अब सकारात्मक तरीके से लोगों के सामने आएगा। इस दौरान राजस्व विभाग के राजस्व संग्रह अमीन, संग्रह अनुसेवक, राजस्व लेखाकार आदि ने कार्य किया। जिसमें वीर राम, दयाल गिरी, नारायण राम, राजेंद्र ¨सह, विशन राम, हरीश ¨सह बिष्ट, हेम चंद्र भट्ट, पूरन राम आदि मौजूद रहे.

Loading...