स्कूलों की मनमानी के खिलाफ अभिभावकों में आक्रोश

0

बृहस्पवितार को मसूरी विधायक को भेजा पत्र

स्कूलों की मनमानी के खिलाफ अभिभावकों में आक्रोश
अभिभावकों का विधायकों से मिलने का दौर शुरू
बृहस्पवितार को मसूरी विधायक को भेजा पत्र[ads1][ads1]
दोषी पाए जाने वाले स्कूलों के खिलाफ उचित कार्रवाई की मांग की
देहरादून। निजी स्कूलों की बढ़ती मनमानी को लेकर अभिभावकों ने विरोध करना शुरू कर दिया है। पहले चरण में अभिभावक विधायकों से मिलेंगे व उनके समक्ष मांगें रखेंगे। इसके बाद ही आगे की रणनीति बनाई जाएगी।
इसी क्रम में बृहस्पतिवार को ऑल उत्तराखंड पेरेंट एसोसिएशन ने मसूरी विधायक गणेश जोशी को पत्र लिखकर निजी स्कूलों की बढ़ती मनमानी पर रोक लगाने की मांग की। अभिभावकों का कहना है कि आने वाले दिनों में सभी विधायकों से बारी- बारी से मुलाकात कर स्कूलोंं की लूट- खसोट के खिलाफ कार्रवाई की मांग की जाएगी।
एसोसिएशन के अध्यक्ष नीरज सिंघल ने बताया कि एडमिशन का दौर शुरू होने के साथ ही निजी स्कूलों की मनमानी के कारण अभिभावक शोषित हो रहे हैं। स्कूलों की शिकायत मिलने पर एसोसिएशन अभिभावकों का साथ देगा। उन्होंने बताया कि पहले चरण में विधायकों से वार्ता की जाएगी। इसके अलावा अभिभावकों ने विधानसभा अध्यक्ष से भी मुलाकात करने का समय मांगा है।
हल्द्वानी में पहली बार कार्यकारिणी का गठन
प्रदेश में निजी स्कूलों की लूट-खसोट पर अंकुश लगाने के लिए पेरेंट एसोसिएशन ने बृहस्पतिवार को हल्द्वानी में कार्यकारिणी का गठन कर पदाधिकारियों को गोपनीयता की शपथ दिलाई। जिसमें संरक्षक राजेन्द्र फस्र्वाण, अध्यक्ष गुरुचरण सिंह प्रिंस, संगठन सचिव आसिम खान को नियुक्त किया गया। वहीं राजीव अग्रवाल, देवेश अग्रवाल व बीरेन्द्र गुप्ता को उपाध्यक्ष पद की जिम्मेदारी दी गई। एसोसिएशन के अध्यक्ष नीरज सिंघल ने बताया कि अभिभावकों के हित को ध्यान में अन्य जिलों में भी कार्यकारिणी का गठन किया जाएगा

Loading...