3 साल में पतंजलि को 2.98 अरब की सब्सिडी

जनता बेहाल,किसान बदहाल सिर्फ भाजपा_का_यार_मालामाल

0

मोदी सरकार के तीन साल पूरे होने पर सोशल मीडिया पर किसान, मजदूर और युवाओं के रोजगार का मुद्दा छा गया है। जनता का हाल बेहाल, किसान बदहाल और मजदूर परेशान को लेकर लोग सरकार को घेर रहे हैं।

26 मई 2014 को नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार ने जिम्मेदारी संभाली थी। रोजगार, महंगाई व भ्रष्टाचार जैसी समस्याओं से निजात पाने के लिए जनता ने भारतीय जनता पार्टी को प्रचंड जीत दिलाकर देश की सत्ता सौंपी। लेकिन तीन साल बाद भी हालात सुधरे नहीं है बल्कि बिगड़ ज्यादा गए हैं।

किसान परेशान है, युवाओं को रोजगार न मिल पाने से ज्यादा चिंता बढ़ गई है। पर मोदी सरकार तीन साल पूरे होने पर जश्न मना रही है।

वहीं सोशल मीडिया पर लोग सरकार की विफलता पर तंज कस रहे हैं। आम आदमी पार्टी की यूथ विंग ने एक पोस्टर सोशल मीडिया पर पोस्ट किया है। जिसमें योग गुरू बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि को 3 साल में मिली 2.98 अरब की सब्सिडी का जिक्र है।

इस पोस्ट में एक सवाल लिखा गया है, सवाल है कि, 3 सालों में रु 2.98 अरब की सब्सिडी बाबा रामदेव को दी और साहिब जनता से कहते है कि सब्सिडी छोड़ो क्यों ? इस खबर का सोर्स भी समाचार एजेंसी रॉयटर्स का दिया गया है।

इसके अलावा भी तमाम यूजर ने किसान व युवाओं के बेरोजगारी पर नाकाम सरकार का मुद्दा उठाया।

 नें देश की अर्थव्यस्था की कमर तोड़ दी, युवाओ के लिए रोज़गार नही,किसान के लिए कोई सहायता नही इसलिए  !!!

ना किसानो को सही दाम,ना युवाओं को काम मोदी सरकार बस करे अम्बानी, अडानी को ही सलाम @AamAadmiParty@DrKumarVishwas

आपको बता दें कि, मोदी सरकार तीन साल पूरे होने पर जश्न मना रही है वहीं उसकी नाकामियों पर विपक्षी पार्टियां सरकार को घेरने का काम कर रही है।

Loading...