सेना में शामिल हुए 409 युवा अफसर, सैन्य अफसर सरहद की निगहबानी को तैयार

0

देश के भावी सैन्य अफसर सरहद की निगहबानी को तैयार हैं। देहरादून स्थित भारतीय सैन्य अकादमी (आईएमए) में पासिंग आउट परेड खत्म होने के बाद 409 जांबाज युवा अफसर अंतिम पग पार करते ही इंडियन आर्मी की मुख्यधारा में शामिल हो गए।

देहरादून स्थित आईएमए से आज पीओपी में 487 कैडेट पासआउट होकर अफसर बने। इनमें 409 भारतीय और 78 विदेशी कैडेट शामिल हैं। भारतीय सैन्य अकादमी की ऐतिहासिक चैटवुड बिल्डिंग परिसर में यह परेड हुई।

आईएमए के शहीदों को दी श्रद्धांजलि 

देहरादून। भारतीय सैन्य अकादमी (आईएमए) की पासिंग आउट परेड में शामिल होने वाले भावी सैन्य अफसरों ने शुक्रवार सुबह इंडियन मिलिट्री के युद्ध स्मारक पर शहीद सैनिकों (सैन्य अधिकारियों) को श्रद्धांजलि दी। युद्ध स्मारक में आईएमए से पास आउट हुए उन 854 सैन्य अफसरों के नाम अंकित हैं जो अलग-अलग अंतराल पर देश की रक्षा करते हुए शहीद हुए। आईएमए में शनिवार को पासिंग आउट परेड में विभिन्न राज्यों के 409 और विदेशी 78 कैडेट अंतिम पग पार करेंगे। इसी क्रम में पास आउट होने से एक दिन पहले जेंटलमैन कैडेट्स शहीद जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित कर उनकी बहादुरी से प्रेरणा लेते हैं। शुक्रवार को एकेडमी के कमांडेंट लेफ्टिनेंट जनरल एसके झा समेत एकेडमी के वरिष्ठ सैन्य अधिकारियों और पासिंग आउट बैच के कुल 487 जेंटलमैन कैडेटों ने युद्ध स्मारक पर पुष्प अर्पित कर शहीद सैन्य अफसरों की शहादत को नमन किया।

बांग्लादेश के चीफ ऑफ आर्मी अतिथि 

देहरादून। बांग्लादेश के चीफ ऑफ आर्मी जनरल अबु बिलाल मोहम्मद शैफुल हक पासिंग आउट परेड में मुख्य अतिथि के तौर पर उपस्थित रहेंगे। पासिंग आउट परेड का आयोजन ऐतिहासिक चेटवुड बिल्डिंग में होगा। आर्मी कमांडेंट लेफ्टिनेंट जनरल एसके झा ने बताया कि 487 जांबाज कड़े परिश्रम व प्रशिक्षण के बाद अफसर बनेंगे। परेड को देखते हुए आईएमए कैंपस व आस-पास कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई है। पीओपी से पहले शुक्रवार रात दून में चेकिंग अभियान चलाया गया।

Loading...