देवस्थानम बोर्ड की व्यवस्थाओं से नाराज पंडा महापंचायत के अध्यक्ष ने कराया मुंडन

0

चारधाम देवस्थानम बोर्ड की व्यवस्थाओं और निर्णयों को अव्यवहारिक तथा गैर- लोकतांत्रिक करार देते हुए बदरीनाथ में ब्रह्म कपाल तीर्थ पर एकत्र होकर चारधाम पंडा पंचायत के तीर्थ पुरोहितों और व्यापार संघ ने देवस्थानम बोर्ड की चारधाम यात्रा व्यवस्थाओं का विरोध किया।

चारधाम पंडा महापंचायत के अध्यक्ष कृष्ण कांत कोटियाल ने मुंडन कर विरोध जताया। बुधवार को बदरीनाथ के ब्रह्म कपाल तीर्थ में एकत्र होकर पंडा समाज, तीर्थ पुरोहितों और व्यापार संघ ने देवस्थानम बोर्ड की कार्यशैली को मान्यताओं और लोकतंत्र विरोधी बताया।

चारधाम पंडा महा पंचायत के अध्यक्ष ने सरकार और देवस्थानम बोर्ड की कार्यशैली के विरोध में मुंडन कराया और कहा कि सूबे की सरकार एक पक्षीय सरकार है जबकि सरकार को जनता के प्रति उत्तरदायी होनी चाहिए। सरकार को जनता को विश्वास में लेना बहुत जरूरी है ।

जबकि सरकार द्वारा देवस्थान बोर्ड बना तो लिया लेकिन आज तक चारधाम के लोकल जनता एवं तीर्थपुरोहित को विश्वास में नहीं लिया गया। जिसके चलते आज भी चारधाम सहित अन्य 47 मंदिरों की यात्रा व्यवस्था चरमराई है। कहा कि अगर देवस्थाम बोर्ड को शीघ्र समाप्त ना किया गया तो चारधाम तीर्थ पुरोहित, व्यापार सभा, हकहकूकधारिया द्वारा आगे भी इसी तरह विरोध प्रदर्शन किया जायेगा।

बदरीनाथ के विधायक पर भी बरसे
बदरीनाथ नगर पंचायत के पूर्व अध्यक्ष बलदेव मेहता ने कहा कि कुछ दिन पूर्व बदरीनाथ विधायक एवं देवस्थानम बोर्ड में सदस्य महेंद्र भट्ट द्वारा मंदिर से जुड़े पुजारियों एवं ग्रामीणों की समस्याओं को लेकर बदरीनाथ में  बैठक की गयी थी। जिसमें  स्थानीय  व्यापारियों द्वारा बदरीनाथ में बैंक बंद होने से उत्पन्न समस्या  से अवगत कराया। बलदेव मेहता ने कहा विधायक ने आश्वासन दिया कि अगले दो दिनों के भीतर बैंक सुचारू की जायेगी। लेकिन अभी तक यहां बैक नहीं खुले ।

 ये थे मौजूद 
विरोध प्रदर्शन के समय चारधाम तीर्थ पुरोहित के अध्यक्ष कृष्ण कांत कोटियाल, श्यामा पंचपुरी, जमुना प्रसाद रैवानी, जवरीलाल कोटियाल, राजेंद्र प्रसाद ,बलदेव मेहता,  आनंद मेवाड़, स्वपनिल रैवानी, संदीप भट्ट, जसवीर मेहता, संजय कुमार ।

Loading...