NH-74 की घोटालेबाज प्रिया शर्मा की जमानत अर्जी खारिज

0
जिला एवं सत्र न्यायालय के न्यायाधीश सी पी बिजल्वाण की न्यायालय को सरकार की तरफ से डीजीसी सुशील कुमार शर्मा ने न्यायालय को बताया कि नवंबर में सार्वजनिक हुए एनएच 74 घोटाले में एडीएम की ओर से मामले में एफआईआर दर्ज कराई गई थी। मामले में एसआईटी के जांच अधिकारी स्वतंत्र कुमार की ओर से एसएलओ, राजस्व अधिकारी, काश्तकार तथा बिचौलियों से की गई जाच में प्रिया शर्मा और सुधीर चावला को करोड़ों रुपए के कमीशन की हेराफेरी में संलिप्त पाया गया।

26 जनवरी 2018 को दोनों आरोपियों के खिलाफ काशीपुर में आईपीसी की धारा 420, 467, 468, 471 के तहत मुकदमा दर्ज कराया गया। जिसकी जांच सीओ राजेश भट्ट को सौंपी गई थी और बीती 20 मार्च को रुद्रपुर और काशीपुर की संयुक्त टीम ने दोनों आरोपियों को गुरुग्राम सेक्टर 29 के एक मॉल से प्रिया और सुधीर चावला को गिरफ्तार किया गया था।आपको बता दें कि प्रिया शर्मा एलाइड प्लस इंफ्रा एंड आदर्श प्राइवेट लिमिटेड की चेयरपर्सन हैं, जिसे आज जिला व सत्र न्यायालय के न्यायाधीश सीपी बिजल्वाण की अदालत ने जमानत याचिका को खारिज कर दिया।

Loading...