उत्तराखंड: नेहा की सफलता ने बदल दिया गांव का इतिहास, पढ़ेंगे तो गर्व करेंगे

0
उत्तराखंड बोर्ड रिजल्ट आया तो देवभूमि की बेटी ने इतिहास रच दिया। आगे जानिए इस छात्रा की सफलता की कहानी… मूल रूप से इसाली, आराकोट, उत्तरकाशी निवासी नेहा राणा ने 479 (95.80 प्रतिशत) अंक हासिल कर हाईस्कूल की मेरिट लिस्ट में संयुक्त रूप से 12वां स्थान प्राप्त किया है।

राजकीय इंटर कॉलेज, नालापानी की छात्रा नेहा ने बताया कि उनके गांव से आज तक किसी ने मेरिट में जगह नहीं बनाई है। नेहा के पिता यशपाल सिंह राणा किसान और मां लता देवी गृहणी हैं।

नेहा ने विज्ञान में सबसे अधिक 99, सामाजिक विज्ञान में 98, सामाजिक विज्ञान में 96, पेंटिंग एवं अंग्रेजी में 94 और हिंदी में 92 अंक हासिल किए हैं। प्रधानाचार्य शीतल सिंह दानू ने बताया कि विद्यालय से मेरिट लिस्ट में जगह बनाने वाली वह पहली छात्रा हैं।

सैन्य अधिकारी बनना चाहते हैं प्रतीक चंद्र

pratik

पौड़ी के उत्तराखंड बोर्ड  हाईस्कूल परीक्षा में विकास खंड कोट के जीआईसी सबदरखाल के प्रतीक चंद्र ने प्रदेश की टॉप 20 मेरिट लिस्ट में 16वां स्थान प्राप्त किया है। प्रतीक ने 500 मे से 475 अंक हासिल किए है। प्रतीक ने भारतीय सैन्य अधिकारी बनकर देश सेवा करने का लक्ष्य रखा है।

ग्रामपंचायत कोटा के रहने वाले प्रतीक ने बताया कि वह प्रतिदिन पांच किमी की पैदल दूरी तयकर स्कूल जाते हैं। प्रतीक पढ़ाई के साथ ही खेलकूद प्रतियोगिताओं में भी अव्वल हैं। प्रतीक ने बताया कि घर की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने पर विद्यालय के अध्यापक पंकज सजवाण, जितेंद्र सेमवाल व गीता भंडारी ने उनकी मदद की है। बताया कि वह नियमित 10 घंटे पढ़ाई करते थे।

Loading...