अच्छी पहल : उत्तराखंडी शैली में बनेंगे राज्य के सरकारी भवन

0

राज्य में बनने वाले सभी सरकारी भवन अब उत्तराखंडी शैली में बनेंगे। मुख्य सचिव की अध्यक्षता में मंगलवार को हुई सचिव समिति की बैठक में इस पर मुहर लगी।

सचिवालय में आयोजित हुई सचिव समिति की बैठक में ब्रिडकुल की ओर से पहाड़ी शैली में बनने वाले भवनों को लेकर प्रजेंटेशन दिया गया। मुख्य सचिव ने इस शैली के भवनों को जमकर सराहा। सूत्रों ने बताया कि सरकार नई दिल्ली में उत्तराखंड निवास को तोड़कर नया भवन बनाने जा रही है, जो अब उत्तराखंडी शैली में बनाया जाएगा। इसके अलावा राज्य में अब बनने वाली सभी सरकारी बिल्डिंग भी पहाड़ी शैली में ही बनाई जाएंगी। इसमें स्कूल, अस्पताल आईटीआई सहित सभी प्रकार के भवन शामिल हैं।

बैठक में निर्णय लिया गया कि उत्तराखंडी शैली के भवनों के लिए अब सरकार नई नीति लाएगी। सूत्रों ने बताया कि इस शैली के भवनों के निर्माण से राज्य के खजाने पर कम बोझ पड़ेगा और रॉ मटीरियल स्थानीय स्तर पर उपलब्ध होने की वजह से भवन निर्माण लागत कम होगी। उत्तराखंडी शैली के भवनों में पत्थर की नीव और लकड़ी के बीम होते हैं और भूकंप की दृष्टि से भी इस शैली के भवन सुरक्षित माने जाते हैं। इसके अलावा सचिव समिति की बैठक में आवास, राजस्व और सिंचाई विभाग के कई प्रस्तावों पर भी चर्चा की गई।

पंचेश्वर बांध की डीपीआर पर तेजी के निर्देश 

सचिव समिति की बैठक में पंचेश्वर बांध की प्रगति को लेकर भी चर्चा हुई। मुख्य सचिव ने इस दौरान पंचेश्वर बांध की डीपीआर में तेजी के निर्देश दिए। साथ ही उन्होंने पुनर्वास और अन्य कार्यों में भी तेजी लाने के निर्देश दिए। मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आयोजित हुई सचिव समिति की बैठक में अधिकांश सचिव मौजूद थे।

Loading...