वफादार कुत्तों को सेना में क्यूँ मार दी जाती है गोली

0
आप लोगों में से बहुत ही कम लोगों को यह मालूम होगा कि भारतीय सेना में रिटायरमेंट के बाद वफादार कुत्तों को भी गोली मार दी जाती है.जी हां दोस्तों,यह बात पूर्ण सच है कि वफादार कुत्तों को रिटायरमेंट के बाद भारतीय सेना गोली मारकर मौत के घाट उतार देती है.इसके पीछे जो बड़ी वजह है,वो हम आप लोगों को बताएंगे.
जानवर भी वफादार होते हैं और जानवरों में वफादारी के मामले में कुत्ते का नंबर सबसे पहले आता है,क्योंकि कुत्ता इंसान को हर मुसीबत के समय में बचाता है और इंसान के लिए सबसे वफादार साबित होता है. 
भारतीय सेना में भी कुत्तों की वफादारी की भूमिका रहती है.कुत्तों को भारतीय सेना के लिए स्पेशल ट्रेनिंग दी जाती है और यह ट्रेनिंग लिए हुए कुत्ते हर हाल में भारतीय सेना को समर्पित रहते हैं,अपना अहम रोल अदा करते हैं.भारतीय सेना के ये कुत्ते हर मुसीबत में भारतीय सेना का साथ देते हैं,लेकिन फिर भी भारतीय सेना रिटायरमेंट के बाद इन वफादार कुत्तों को बड़े सम्मान के साथ रिटायर करके,गोली मारकर मौत के घाट उतार देती हैं.यह सुनकर आपको बड़ा अजीब सा लगा होगा लेकिन इसके पीछे बहुत बड़े कारण हैं:-
एक व्यक्ति ने आरटीआई डालकर आर्मी से यह सवाल किया कि आखिर क्यों इन वफादार कुत्तों को रिटायरमेंट के बाद मार दिया जाता है तो आर्मी ने इसका बहुत बड़ा कारण सिक्योरिटी रिजन(security reasons) को बताया.आर्मी का कहना है कि रिटायरमेंट के बाद ये कुत्ते किसी ऐसे व्यक्ति को ना मिल जाएं जिससे देश को नुकसान हो क्योंकि इन ट्रेनिंग लिए हुए कुत्तों को भारतीय आर्मी के हर एक गुप्त स्थान का पता होता है.
भारतीय आर्मी ने यह भी बताया कि यदि किसी बीमारी के कारण कुत्ता एक महीने तक ठीक नहीं हो पाता,तब भी उसको आदर सत्कार के साथ रिटायर करके मार दिया जाता है.आर्मी ने बताया कि इन कुत्तों को आर्मी के बेस लोकेशन,कैंपस और कई गुप्त जानकारियां होती है, अगर इन्हें आप लोगों को सौंप दिया जाए तो सिक्योरिटी के लिए बहुत बड़ा खतरा हो सकता है.भारतीय सेना ने यह भी कहा कि यदि इन कुत्तों को रिटायरमेंट के बाद “एनिमल वेलफेयर सोसाइटी” को दे दिया जाए तो वे उनका ऐसा पालन पोषण नहीं कर पाएंगे जैसा आर्मी के द्वारा किया जाता है.
तो प्यारे साथियों इन्हीं कारणों से भारतीय सेना इन वफादार कुत्तों को गोली मार देती है,लेकिन भारतीय सरकार आगे चलकर ऐसे कदम उठाने की सोच रही है कि इन कुत्तों को मारा ना जाए.
Loading...