देहरादून में डिजिटल सेक्स रैकेट का पुलिस ने किया पर्दाफास, व्हॉट्सएप,फेसबुक से तलाशते थे ग्राहक

0
demo pic

देहरादून: राजधानी में देह व्यापार का पुलिस ने खुलासा किया है, रैकेट संचालिका महिला समेत चार ग्राहक पुलिस ने गिरफ्तार किए हैं. जबकि तीन पीड़ित युवतियों को मौके से रेस्क्यू किया गया. आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर पुलिस ने उन्हें कोर्ट में पेश किया, युवतियों को पुलिस ने मुकदमे में गवाह बनाया है. एएसपी (प्रभारी सीओ) पटेलनगर लोकेश्वर सिंह ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर सोमवार रात ब्रह्मपुरी स्थित सलीना पत्नी स्वर्गीय लारेंस के मकान में दबिश दी गई तो तीन अलग-अलग कमरों में महिलाएं और पुरुष आपत्तिजनक स्थिति में मिले पुलिस ने मौके पर मिले लोगों और युवतियों से पूछताछ की तो उन्होंने बताया कि सलीना और उसका बेटा नितिन फोन और व्हाट्सअप के जरिए ग्राहक ढूंढ़कर लाते हैं. पीड़ित युवतियों ने बताया कि रैकेट की कमाई का आधा हिस्सा संचालिका महिला रखती थी, जबकि आधी रकम उन्हें दी जाती थी।

युवतियां मेरठ और मुजफ्फरनगर जिले की रहने वाली हैं. रैकट संचालिका महिला समेत मौके से मिले चारों आरोपियों के खिलाफ पुलिस ने अनैतिक देह व्यापार अधिनियम के तहम मुकदमा दर्ज किया है. पुलिस ने मौके से ग्राहक बनकर पहुंचे आजम निवासी चंद्रबनी, मदनलाल निवासी लक्खीबाग और नितिन निवासी ब्रह्मपुरी को गिरफ्तार किया है. जबकि रैकट संचालिक का बेटा नितिन फरार है. आरोपियों को गिरफ्तार करने वाली टीम में इंस्पेक्टर पटेलनगर रितेश साह, एसएसआई पटेलनगर विपिन बहुगुणा, एसआई मुकेश भट्ट, हेमलता, अनीता बिष्ट, सिपाही सुरेंद्र, योगेश, शादाब आदि शामिल रहे।

Loading...