प्रदेश की राजधानी होने के बाद भी अक्सर सफाई को लेकर चर्चाओं में रहता है।

0

देहरादून शहर प्रदेश की राजधानी होने के बाद भी अक्सर सफाई को लेकर
चर्चाओं में रहता है। जिसका संज्ञान लेते हुए पूर्व विधायक राजकुमार
कांग्रेस पार्षदगण एवं कार्यकर्ताओं के साथ नगर आयुक्त रवनीत चीमा से
मिले और उन्हें निम्न बिन्दुओं पर उचित कार्यवाही करने को लेकर ज्ञापन
सौंपा। उन्होंने बताया कि कई स्थानों पर सफाई न होने की शिकायतें निरन्तर
प्राप्त हो रही हैं।
इसके साथ ही नगर निगम द्वारा अन्य जनहित कार्यों में भी ढिलाई बरती जा
रही है, जिसका खामियाजा आम जनता भूगत रही है।
1- नगर निगम द्वारा हाउस टैक्स को लेकर धरातल पर कोई कार्यवाही नहीं हो
रही है, साथ ही पूर्व में बस्तीयों में लगे टैक्स को भी बन्द कर दिया गया
है, इसे शीघ्र प्रारम्भ किया जाए एवं जनता से लिए गए टैक्स की इंडेक्सिंग
न होने के कारण अभी तक नहीं की गई है, और किसी को भी विभाग द्वारा जो
प्रपत्र भेजा जाता था, वह अभी तक नहीं मिल पाया, इसी के कारण अन्य टैक्स
सम्बन्धित कार्य भी लम्बित पड़े हुए हैं।
2- नगर निगम क्षेत्र के अन्तर्गत आने वाले वार्डों की आबादी के अनुसार
सफाई कर्मचारीयों की नियुक्ति की जाए।
3- शहर के प्रत्येक घर, व्यवसायिक प्रतिष्ठान, बाजार की दुकानों के साथ
ही मलिन बस्तियों में स्थित घरों से भी डोर-टू-डोर कूड़ा उठवाया जाए।
4- नगर निगम द्वारा काफी समय से कोई भी निर्माण कार्य नहीं किया गया है।
5- शहर के कूड़े के लिए ट्रेंचिंग ग्राउण्ड का कार्य शीघ्र प्रारम्भ किया जाए।
6- नगर निगम वार्डों में कई स्थानों पर स्ट्रीट लाईटंे खराब हैं, और कुछ
विद्युत पोलों पर स्ट्रीट लाईट नहीं है, साथ ही लाईटों को समय पर
खोलने/बंद करने की कोई व्यवस्था नहीं, उसे सुधारा जाए।
7- शहर में घूम रहे आवारा पशुओं के कारण कुछ न कुछ दुर्घटनाएं होती रहती
हैं, इसके निराकरण के लिए निगम अविलम्ब कार्यवाही की जाए।
8- डेंगू के निराकरण को निगम द्वारा की जा रही फाॅगिंग की क्या स्थिति
है, जनता द्वारा संज्ञान मंे लाया गया है कि कुछ वार्डों मंे फाॅगिंग समय
पर नहीं की जा रही है, साथ ही दवाईयों का छिड़काव भी समय पर नहीं किया जा
रहा है।
9- शहर के छोटे-बड़े नालों की समय-समय पर सफाई करने के लिए नाला गैंग के
कर्मचारियांे की संख्या बढ़ाई जाए ताकि बरसात में समय रहते सफाई की जाए,
अक्सर नालों में कूड़ा फसने पर जलभराव की स्थिति से जनता को जूझना पड़ता
है।
10- बरसात में जंगली घास तेजी से बढ़ती है, जिस कारण इनमें अनेकों विषैले
जीव रहते हैं, इसे समय-समय पर कटवाया जाए।
11- शहर में मुख्य मार्ग, आन्तरिक मार्गों पर जो नालीयां बनी हैं, उनकी
समय पर सफाई नहीं की जाती, जिससे बरसात में सारा गन्दा पानी सड़कों पर
बहने लगता है, इनकी समय-समय पर सफाई करवाई जाए।
12- राजा रोड़ कूड़ा ढोल, तहसील, बिन्दाल, नेशविला रोड़ ऐसे स्थान हैं जहां
पर कूड़े का ढेर रास्ते में पड़ा रहता है, इनके निकट ही स्कूल व मंदिर भी
हैं, जहां श्रद्धालुओं, छात्र-छात्राओं का भी आवागमन बना रहता है, इसके
निराकरण को प्राथमिकता पर उचित व्यवस्था बनाई जाए।
13- रात के समय विभिन्न प्रतिष्ठानों के निजी वाहनों द्वारा ढेर सारा
कूड़ा लाकर कूड़े दानों में डाल दिया जाता है, जिससे आधा कूड़ा सड़क पर ही
पड़ा रहता है, इस पर निगम द्वारा तत्काल उचित कार्यवाही की जानी चाहिए।
14- निगम द्वारा अतिक्रमण हटाओ अभियान चलाया जा रहा है, जो कि मुख्य
मार्गों पर केन्द्रीत है, इसमें कुछ क्षेत्र/मुख्य बाजार ऐसे भी हैं जहां
यातायात बाधित रहता है, उन स्थानों पर नगर निगम द्वारा क्या कार्यवाही की
जा रही है।
15- सफाई व्यवस्था के लिए उपयुक्त उपकरणों की भारी कमी है इस कमी को पूरा
करने हेतु उचित उपकरण नगर निगम में उपलब्ध करवाए जाएं।
16- होर्डिंग टेंडर प्रक्रिया की क्या स्थिति है।
17- नगर निगम में जन्म/मृत्यु के आवेदनों के साथ ही हाउस टैक्स की हेतु
भी आॅनलाईन आवेदन की प्रक्रिया प्रारम्भ की गई, लेकिन जनता को इसका लाभ
नहीं मिल रहा है।इसके साथ ही पार्षदों को शासन द्वारा स्वीकृत 25 लाख भी अविलम्ब जारी कीया जाए,हाउस टैक्स ,ट्रंचिंग ग्राउंड,कूड़ा उठाने आदि विषयों पर चर्चा की गई।
वार्ता के दौरान नगर आयुक्त रवनीत चीमा एवं नगर स्वास्थ्य अधिकारी द्वारा
जल्द से जल्द कार्यवाही का आश्वासन दिया। इस मौके पर नेता प्रतिपक्ष नीनू सहगल,कोंग्रेस की प्रदेश प्रवक्ता गरिमा दसोनि,पूर्व कोंग्रेस महानगर अध्यक्ष लालचन्द शर्मा,प्रदेश सचिव सोम बाल्मीकि,पार्षद डॉ विजेंदर पाल, जगदीश धीमान,बीना बिष्ट,मीना बिष्ट, अशोक कोहली,  अर्जुन सोनकर,प्रकाश नेगी,मोंटी,देविका रानी,तजेंद्र कोर,राहुल शर्मा,मनोज कुमार,रेशमा,रेखा ढींगरा,रंजीत सिंह,दानिश, कमर खान,रोज़ी,रूबी आदि मौजूद थे।

Loading...