मुख्य सचिव ओमप्रकाश ने मंगलवार को सचिवालय में कोविड-19 के वैक्सीनेसन की तैयारियों की समीक्षा की

0

मुख्य सचिव ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि वैक्सीनेसन की गाईडलाईन के अनुसार सभी तैयारियां सुनिश्चित कर ली जाएं। उन्होंने निर्देश दिए कि वैक्सीनेसन का पूरा प्रोसेस जन जन पहुंचाने के लिए इसका पूर्ण प्रचार प्रसार किया जाए। इसके साथ ही, कोल्ड चेन लॉजिस्टिक्स की व्यवस्था और टीकाकरण स्थलों की निगरानी हेतु भी अधिकारियों की तैनाती सुनिश्चित कर ली जाए।

मुख्य सचिव ने कहा कि टीकाकरण स्थलों में इंटरनेट कनेक्टिविटी सुनिश्चित की जाए। उन्होंने कहा कि ऐसे क्षेत्रों जहाँ नेटवर्क कनेक्टिविटी न होने अथवा कम होने के कारण पंजीकरण एवं टीकाकरण आदि के मैसेज लाभार्थी तक पहुंचने में समस्या हो, उन स्थानों पर इलेक्शन की तर्ज पर बी.एल.ओ. आदि के द्वारा सभी आवश्यक सूचनाएं लाभार्थी तक पहुंचाने की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए।

मुख्य सचिव ने कहा कि टीकाकरण स्थलों को इस प्रकार से चुना जाए कि उनमें बिजली, पानी सहित वेटिंग रूम में टॉयलेट आदि की व्यवस्था की जा सके। उन्होंने टीकाकरण स्थलों में सोशल डिस्टेंसिंग का पूर्ण ध्यान रखे जाने के भी निर्देश दिए।

मुख्य सचिव ने कहा कि जनपदों की पूर्ण व्यवस्था का दायित्व जिलाधिकारी एवं जिला चिकित्सा अधिकारियों को निभाना है। कोल्ड चेन लॉजिस्टिक्स की व्यवस्था और टीकाकरण स्थलों के चिन्हीकरण में विशेष सतर्कता बरती जानी चाहिए। टीकाकरण में लगे एक एक कार्मिक का प्रशिक्षण किया जाना सुनिश्चित किया जाए।

बैठक में बताया गया वैक्सीनेशन हेतु प्रत्येक जनपद द्वारा सभी आवश्यक तैयारियां सुनिश्चित कर ली गयी हैं। प्रत्येक जनपद में 10 बूथों में 8 जनवरी को ड्राई रन किया जाएगा।

इस अवसर पर सचिव अमित नेगी, सौजन्या एवं डॉ. पंकज पाण्डेय सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Loading...