शादी वाले घर में खूनी खेल, मां-बाप और भाई की हत्या, दुल्हन ने ऐसे बचाई जान

0

रुड़की के भगवानपुर में हुए हत्याकांड से पूरे क्षेत्र में सनसनी फैल गयी है। हर कोई हत्या की वारदात से दहशत में है। किरायेदार प्रताप सिंह ने यहां मकान मालिक के परिवार के तीन लोगों की हत्या कर दी। जबकि मकान मालिक की बेटी ने बड़ी मशक्कत कर अपनी जान बचाई।

जिस घर में खूनी खेल हुआ वहां बेटी की तैयारियां चल रही थी। घर में राज सिंह सैनी की बड़ी पुत्री मानसी की शादी थी। परिवार शादी की तैयारियों में जुटा था। मेहमान भी आने लगे थे। गुरुवार रात को 11 बजे तक घर में महिला संगीत चला। किसी को भी इस बात का अंदाजा नहीं था कि प्रताप सिंह पूरे परिवार के खात्मे की साजिश रच रहा है।

किरायेदार प्रताम सिंह ने सबसे पहले मकान मालिक राज सिंह सैनी, उसकी पत्नी और पुत्र की फरसे से काटकर हत्या कर दी। इसके अलावा तीन युवतियों पर हमला कर लहूलुहान कर दिया। बरामदे के पास के दुल्हन बनने जा रही मानसी उर्फ मांगी सोई थी। आरोपी प्रताप सिंह उसकी हत्या के लिए कमरे की ओर बढ़ा, लेकिन उसने कमरा बंद कर दिया। इसके बाद राज सिंह निचली मंजिल पर बने अपने कमरे में आया और जहर खाने के बाद फरसे से खुद का गला काट दिया। मांगी के शोर मचाने पर पड़ोस में रहने वाले उसके ताऊ सतपाल अन्य ग्रामीणों के साथ मौके पर पहुंचे।

मानसी घटना के बाद पूरी तरह सदमे में हैं। हत्यारे के हाथ से तो वह किसी तरह बच गई। लेकिन इसके बाद वह सदमे में हैं। गांव वाले उसे ढाढस बंधाने का प्रयास करते। लेकिन उसे चुप कराते हुए उनकी भी आंखें नम हो जाती। पूरे गांव में शोक की लहर है। राज सिंह सैनी का सबसे बड़ा पुत्र अजय देहरादून में आईटीआई कर रहा है। उसे बहन की शादी के लिए शुक्रवार को घर आना था। उसे सुबह घटना का पता चला और वह घर पहुंचा। घर में पिता, मां और भाई का शव देखकर वह बिलखने लगा।

Loading...