विस उप-चुनाव दिल्ली समेत 5 राज्यों में BJP की बड़ी जीत, कर्नाटक में कांग्रेस बरकरार

0

नई दिल्ली: आठ राज्यों में 10 विधानसभा सीटों पर हुए उप-चुनाव की गिनती जारी है. भाजपा ने हिमाचल की भोरंज, असम की धेमाजी, मध्य प्रदेश की बांधवगढ़ और दिल्ली की राजौरी गार्डन सीट जीत ली है. इसके अलावा पार्टी दो अन्य विधानसभा सीट राजस्थान की धौलपुर और मध्यप्रदेश की अटेर सीट पर आगे चल रही है. कांग्रेस सिर्फ कर्नाटक की 2 सीटों पर आगे चल रही है. मालूम हो कि मध्य प्रदेश, असम, राजस्थान, कर्नाटक, दिल्ली, हिमाचल प्रदेश, पश्चिम बंगाल और झारखंड में 9 अप्रैल को उपचुनाव कराए गए थे. [ads1]

इन सीटों पर जीती भाजपा

– भाजपा ने हिमाचल की भोरंज सीट पर जीत दर्ज की. भाजपा उम्मीदवार डॉ. अनिल धीमान ने कांग्रेस उम्मीदवार को हराकर यह उपचुनाव 8290 वोटों से जीत लिया.

– दिल्ली में राजौरी गार्डन सीट से भाजपा-अकाली गठबंधन के उम्मीदवार मनजिंदर सिंह सिरसा ने कांग्रेस उम्मीदवार मीनाक्षी चंदेला को 14,652 वोटों से हराकर आम आदमी पार्टी से यह सीट छीन ली. यहां आप तीसरे नंबर पर रही.

– असम की धेमाजी सीट भी भाजपा ने कब्जा जमा लिया है. पार्टी के उम्मीदवार रानोज पेंगु ने यहां 9,285 वोट से जीत दर्ज की है.[ads1]

– मध्यप्रदेश के उमरिया जिले की बांधवगढ़ सीट से शिवनारायण सिंह ने कांग्रेस की प्रत्याशी सावित्री सिंह को 25476 वोटों से हराकर चुनाव जीत लिया है. इस सीट से विधायक रहे ज्ञान सिंह के लोकसभा के लिए चुने जाने से खाली हुई थी..

– मध्यप्रदेश में भिंड जिले की अटेर सीट पर भाजपा उम्मीदवार अरविंद भदौरिया कांग्रेस प्रत्याशी हेमंत कटारे से आगे चल रहे हैं. यह सीट कांग्रेस नेता सत्यदेव कटारे के निधन के बाद खाली हुई थी.

– राजस्थान के धौलपुर से भाजपा प्रत्याशी शोभारानी कांग्रेस प्रत्याशी बनवारी लाली शर्मा से आगे चल रही हैं. अभी तक यह सीट बसपा के पास थी जिसका विधायक जेल चला गया. इस वजह से यह सीट खाली हुई थी.

कर्नाटक की नंजनगुड सीट पर कांग्रेस जीती, गुंडलपेट में आगे

कर्नाटक के चामराजनगर जिले की ननजनगुड सीट पर कांग्रेस उम्मीदवार काले एन. केशवमुट्टी ने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी और पूर्व कांग्रेस व भाजपा प्रत्याशी श्रीनिवास प्रसाद को 21334 वोटों से हराकर चुनाव जीत लिया है. गुंदलुपेट विधानसभा सीट पर मतगणना जारी है. दोनों सीटें पहले भी कांग्रेस के पास थीं. नंजनगुड में पूर्व मंत्री वी. श्रीनिवास प्रसाद के इस्तीफा देने के कारण उपचुनाव कराया गया जबकि गुंडलपेट में तत्कालीन एच.एस. महादेव प्रसाद के निधन के कारण उपचुनाव हुआ है. पिछले साल मंत्रिमंडल पुनर्गठन के दौरान हटाए जाने से नाराज होकर श्रीनिवास प्रसाद ने कांग्रेस छोड़ दी थी. जबकि गुंडलपेट से महादेव प्रसाद की पत्नी गीता उर्फ मोहन कुमार कांग्रेस की उम्मीदवार हैं.

तृणमूल कांग्रेस ने जीती कांथी दक्षिण सीट[ads1]

– पश्चिम बंगाल की कांथी दक्षिण सीट पर तृणमूल कांग्रेस की चंद्रिमा भट्टाचार्य ने जीत दर्ज की है. इस सीट पर चंद्रिमा ने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी को 42 हजार वोटों से हराया. कांथी दक्षिण सीट पर टीएमसी से चंद्रिमा भट्टाचार्य, लेफ्ट फ्रंट से उत्तम प्रधान और भाजपा से सौरिन्द्र मोहन जान उम्मीदवार थे. यह सीट पहले भी टीएमसी के पास थी लेकिन विधायक दिब्येंदु अधिकारी तमलुक से सांसद बन गए जिससे यह सीट खाली हुई थी.

झारखंड की लिट्टीपाड़ा सीट पर जेएमएम आगे

– झारखंड की लिट्टीपाड़ा सीट पर जेएमएम (झारखंड मुक्ति मोर्चा) के साइमन मरांडी आगे चल रहे हैं. इस साल जनवरी में दिल का दौरा पड़ने से झारखंड मुक्ति मोर्चा के विधायक अनिल मुरमु के निधन के बाद यह सीट खाली हुई थी. पिछले 40 सालों से इस सीट पर झारखंड मुक्ति मोर्चा का कब्जा रहा है.

Loading...