उत्तराखंड में 1 और किसान ने की आत्महत्या, कांग्रेस ने भाजपा सरकार को घेरा

0

उत्तराखंड में एक और किसान ने आत्महत्या की है। मामला सामने आने के बाद कांग्रेस ने भाजपा सरकार पर निशाना साधा है। साथ ही सरकार के सौ दिनों के कामकाज पर सवाल उठाए हैं.बेरीनाग के बाद यूएसनगर में किसान की आत्महत्या के मामले प्रकाश में आने पर कांग्रेस ने सरकार को कठघरे में किया है। आत्महत्या करने वाला किसान यूएसनगर के हल्दी पंचपेड़ा गांव के राम अवतार का हैं।

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने टिहरी में पूर्व विधायक विक्रम सिंह नेगी और यूएसनगर में जिलाध्यक्ष नारायण सिंह बिष्ट को पीड़ित परिवार को सांत्वना देने भेजा है। प्रीतम ने कहा कि किसानों की आत्महत्या की सिलसिलेवार घटनाएं उत्तराखंड के माथे पर कलंक के समान है। सरकार को जल्द से जल्द ठोस कदम उठाने होंगे। उन्होंने सरकार के 100 दिन के जश्न के आयोजन पर भी सवाल उठाया।

कहा कि एक ओर राज्य में किसान एक के बाद एक आत्महत्याएं कर रहे हैं और भाजपा जश्न में डूबी हुई है। कर्ज वसूली के लिए किसानों पर बैंक उत्पीड़नात्मक अंदाज में कर्ज वसूली का दबाव बना रहे हैँ। सरकार को पीडि़त परिवारों को मुआवजा देना चाहिए और बैँकों के स्तर से कर्ज वसूली के लिए किए जा रहे उत्पीड़न पर भी रोक लगानी होगी। प्रीतम ने सरकार के 100 दिन के कार्यकाल को निराशाजनक करार दिया। कहा कि भाजपा सरकार जनविरोधी सरकार है। इसने हर फैसला आम गरीब-किसान के खिलाफ ही किया है।

Loading...