8 मोटरसाईकल तथा 2 स्कूटियों को हरी झंण्डी दिखाकर रवाना किया।

0

टिहरी गढ़वाल, विश्व क्षय रोग दिवस के अवसर पर जिला चिकित्सालय बौराडी में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य तथा जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के संयुक्त तत्वाधान में गोष्ठी का आयोजन किया गया। इस अवसर पर जनपद में स्वास्थ्य सुविधाओं में सुधार के लिए लगभग 37 लाख से जॉच उपकरण व स्वास्थ्य विभाग के क्षेत्रीय कर्मियों के कार्यो में गति लाने के लिए 10 दुपहिया वाहन उपलब्ध कराये गये। इसके अलावा प्रभारी चिकित्साधिकारी पिल्खी श्याम विजय को चिकित्सा के क्षेत्र में सराहनी कार्यो के लिए कायाकल्प पुरुस्कार से सम्मानित किया गया जिसके तहत श्री विजय को 2 लाख रु0 का चैक, प्रशस्ति पत्र प्रदान किया गया। इस अवसर पर गोष्ठी में उपस्थित सभी अधिकारियों व कर्मचारियों ने जनपद को क्षय रोग मुक्त बनाने हेतु शपथ भी ली।
जिला चिकित्सालय में विश्व क्षेय रोग दिवस के अवसर पर आयोजित संगोष्ठी के दौरान मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ आरती ढौडियाल ने बताया कि राज्य सरकार द्वारा 2024 प्रदेश को क्षय रोग मुक्त बनाने के लिए आधुनिक उपकरण चिकित्सालयों को उपलब्ध कराये जा रहे है जिससे जहॉ कर्मचारियों की कार्यक्षमता में सुधार आयेगा वहीं आमजनता को शीघ्र स्वास्थ्य सुविधायें उपलब्ध हो सकेगी। इसी के तहत क्षय रोग की त्वरित जॉच हेतु 30 लाख रु0 की लागत से जिला चिकित्सालय में सीबीनाट (बलगम जॉच मशीन) जो दो घण्टे के अन्दर रिर्पोट देगी का लोकापर्ण/शुभारम्भ सचिव जिला विधिक सेवा प्रधिकरण अब्दुल कय्यूम, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ आरती डौंढियाल, उपजिलाधिकारी चतर सिंह चौहान ने संयुक्त रुप से किया। इसके अलावा पुनरीक्षित क्षय नियंत्रण कार्यक्रम के अन्तर्गत जनपद के विभिन्न स्वास्थ्य केन्द्रों पर तैनात सुपरवाईजरों के लिए 8 मोटरसाईकल तथा 2 स्कूटियों को हरी झंण्डी दिखाकर रवाना किया। इसके अलावा क्षय रोगियों की जॉच हेतु रिर्पोट तैयार करने तथा टैलीमेडिसन सेवा को कारगर बनाने एवं जनता को सुविधायें घर पर ही मिले इसके लिए 15 टेबलेट भी प्रदान किये गये। इस अवसर पर बताया गया कि जनपद में वर्तमान में 673 क्षय रोगी है जिनका उपचार करने में सीबीनाट मशीन द्वारा आसानी होगी।
इस अवसर पर विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव (सिविल जज सीनियर डिविजन) अब्दुल कय्यूम ने कहा कि आमजनता को सरकार द्वारा दी जाने वाली जनसुविधाओं की जानकारी होनी चाहिए। उन्होने कहा कि चिकित्सालयों में सरकार के द्वारा जनता जो नई सुविधायें दी जा रही है उनकी जानकारी प्रचार-प्रचार के माध्यम से दी जानी आवश्यक है ताकि समाज का गरीब तब्का भी इसका लाभ ले सके। उन्होने जनपद में क्षय रोग जॉच हेतु लगाई गई मशीन के लिए सरकार का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि इससे दुरस्थ क्षेत्रों के ग्रामीण लोगों को इस सुविधा के लिए जनपद से बाहर नही जाना पडेगा साथ ही सरकार द्वारा 2024 तक प्रदेश को क्षय रोग मुक्त बनाने के लक्ष्य को भी प्राप्त किया जा सकेगा। उन्होने इस अवसर पर क्षय रोग के चिकित्सा विशेषज्ञों एवं कर्मचारियों को संयुक्त टीम भावना से कार्य करने की बात कही। इस अवसर पर उपजिलाधिकारी चतर सिंह चौहान ने गोष्ठी में उपस्थित चिकित्सा के विषय विशेषज्ञों एवं कर्मचारियों को जनपद को क्षय रोग मुक्त बनाने के लक्ष्य प्राप्ति हेतु टीम भावना से कार्य करने को कहा है। इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ सीपी त्रिपाटी, उप मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ मनोज वर्मा, डॉ जगदीश पाठक, डॉ रजनी भण्डारी के अलावा जिला कार्यक्रम समन्वयक कमला तोपवाल सहित आर0एन0टी0सी के अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित थे।

Loading...