उत्तराखंड के 3 अफसरों को देश में मिलेगी अहम जिम्मेदारी

0

उत्तराखंड निवासी अधिकारियों को सेना एवं सरकार में अहम पदों की जिम्मेदारी मिलने का सिलसिला जारी है। नए साल में अब राज्य निवासी तीन लेफ्टिनेंट जनरलों को सेना में अहम जिम्मेदारी दी जा रही है।

सेना में डायरेक्टर जनरल मिलिट्री ऑपरेशन (डीजीएमओ) पद पर अभी टिहरी निवासी लेफ्टिनेंट जनरल एके भट्ट डीजीएमओ हैं। भट्ट को अब 15 कार्प का कमांडर बनाया जा रहा है। कार्प का मुख्यालय श्रीनगर में है।

जेएस नेगी होंगे स्ट्रैजिक फोर्सेज कमांड के कमांडर 

उत्तराखंड मूल के लेफ्टिनेंट जनरल जेएस नेगी अभी 2 कार्प के कमांडर हैं। इसका मुख्यालय अंबाला में है। उन्हें स्ट्रैजिक फोर्सेज कमांड (एसएफसी) का कमांडर बनाया जा रहा है। इस कमान को स्ट्रैजिक न्यूक्लियर कमांड के रूप में भी जाना जाता है। यह न्यूक्लियर कमांड अथॉरिटी (एनसीए) का हिस्सा होती है। खास बात यह  है कि तीनों अधिकारी गोरखा रेजीमेंट से हैं।

पौड़ी निवासी अनिल चौहान होंगे नए डीजीएमओ 

सेना के सूत्रों के अनुसार, नए डीजीएमओ लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान होंगे। चौहान पौड़ी के रहने वाले हैं। चौहान अभी 3 कार्प कमांडर हैं। सूत्रों के अनुसार इस महीने के अंत तक लेफ्टिनेंट जनरल चौहान नए डीजीएमओ के रूप में कार्यभार संभाल सकते हैं।

अहम पदों पर उत्तराखंड के लोग  

सेना प्रमुख बिपिन रावत और सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल उत्तराखंड से हैं। उत्तराख्ंाड निवासी डीके जोशी अंडमान-निकोबार के उप राज्यपाल हैं। रॉ प्रमुख, कोस्ट गार्ड के प्रमुख भी उत्तराखंड से हैं। जबकि रेलवे बोर्ड, सेंट्रल बोर्ड जैसे अहम पदों पर भी उत्तराखंड के अधिकारी नियुक्त हुए हैं। हाल में प्रदीप सिंह खरौला को एयर इंडिया का सीएमडी बनाया गया है, वे भी उत्तराखंड के हैं।

Loading...