एगी अब चुनाव कु दौर चिफली छुंई चारों ओर

0

 

download

एगी अब चुनाव कु दौर
चिफली छुंई चारों ओर
घिच्चा म च मिसरी घोळीं
हर घडी मिटठी बोली

मिलन सार भलु मिजाज
जिकुडा म लुकायूं सभि राज
मुखडी हैंसदी पुछडी डंसदी
बस मिली जाऊ अबारी दौं राज

दारू कु  भौ नि अजक्यालू मैंगु
बकरा मुर्गा खावा जतगा चैंदू
मांसाहारी शाकाहारी सबकु खयाल
बयार चली च अजक्यालू मयालू

बुड्या ज्वानू कु मान सम्मान
चौतरफी फैल्यूं च माया कु जंजाल
भाषा बोली म हद कु बदलाव
जुमानी म रस्यांण मयालू पराण

अब त हमारा गौं म विकास ही विकास च
कठनाई कु नास विकास की आस च
गरीब अमीर कु एक ही तराजू
अब त चौतरफी विकास ही विकास च

लेखक – मधुरवादिनी तिवारी


 

Loading...