12 घंटे का सफर एक साल के बराबर, जनता बोली थैंक्स CM!

0

12 घंटे के सफर में जनता बोली थैंक्स CM!

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत
उत्तराखंड के CM त्रिवेंद्र सिंह रावत को बीते 18 मार्च को पूरा एक साल हो गया है लेकिन त्रिवेंद्र सरकार ने एक साल बाद कुछ ऐसा कर दिखाया जिसकी लंबे समय से प्रदेश की जनता को इंतजार था. त्रिवेंद्र सरकार ने सड़क से गैरसैंण जाने का जो फैसला लिया उससे पूरे प्रदेश में सरकार की कार्यप्रणाली को लेकर एक नई उम्मीद जगने लगी है. सुबह 8 बजे से देहरादून से शुरु हुए इस सफर का अंत गैरसैंण जाकर हुआ. करीब 12 घंटे के इस सफर में सीएम ने 286 किलोमीटर चल कर 10 जगह कार्यक्रमों को संम्बोधित किया. हालांकि 2015 में सीएम हरीश रावत भी बाई रोड़ देहरादून से गैरसैंण आए लेकिन हरदा के साथ अधिकारियों की इतनी लंबी फौज नहीं थी.

DM से लेकर CS दिखे सडकों पर
आपको बताते चलें कि सीएम के इस सफर के दौरान मुख्य सचिव उत्पल कुमार, डीजीपी अनिल रतूड़ी, प्रमुख सचिव राधा रतूड़ी और हर जिलेवार डीएम और पुलिस कप्तान समेत सीडीओ, और सभी अधिकारी मौजूद थे. सीएम के हाथों सोमवार को कई योजनाओं का शुभारंम्भ हुआ. इसमें चैरास पुल, श्रीनगर मेडिकल काॅलेज में टेली मेडिसन, रुद्रप्रयाग जिले में पुलिस की हिल पेट्रोल यूनिट का उद्घाटन शामिल रहे. इतना ही नहीं सीएम के साथ पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज, यशपाल आर्य, मंत्री धनसिंह रावत भी अलग अलग कार्यक्रमों में शामिल रहे.

लोगों में दिखा उत्साह
देहरादून से चमोली के इस सफर के दौरान सीएम के काफिले से आगे औ पीछे चल रही अधिकारियों, मंत्रियों की गाड़ियों को देख स्थानीय जनता के उत्साह देखने लायक था. रुद्रप्रयाग के एक व्यवसाई बताते हैं कि अगर हर निश्चित समय में सरकार इस तरह से जनता के बीच आती रहे तो सरकार के प्रति जनता का विश्वास दो गुना हो जाता है

Loading...