हड़ताल : उत्तराखण्ड में आज प्राइवेट डॉक्टर नहीं करेंगे इलाज

0

मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया के स्थान पर नेशनल मेडिकल कमीशन (एनएमसी) स्थापित करने के विरोध में आईएमए से जुड़े डाक्टर मंगलवार को ओपीडी का बहिष्कार करेंगे। ओपीडी बहिष्कार सुबह छह बजे से शाम छह बजे तक होगा। केवल इमरजेंसी के मरीजों को लिया जायेगा।

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के प्रांतीय अध्यक्ष डॉ. डीडी चौधरी ने बताया कि इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने नेशनल मेडिकल कमीशन को लागू किए जाने का विरोध शुरू कर दिया है। संगठन का कहना है कि यह कमीशन भविष्य के लिहाज से ठीक नहीं है। इसमें कई विसंगतियां हैं। सरकार ने मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया के स्थान पर नया नेशनल मेडिकल कमीशन बिल संसद में प्रस्तुत किया है। अगर यह लागू हुआ तो कई लोगों का भविष्य खतरे में पड़ जाएगा। उन्होंने इस संबंध में बिंदुवार जानकारी भी दी। उन्होंने कहा कि इस मामले को लेकर आईएमए राष्ट्रपति व प्रधानमंत्री को ज्ञापन भेजेगा।

बड़े अस्पताल नहीं शामिल 

प्रदेश में लगभग ढाई हजार निजी क्लीनिक हैं। ये पूरी तरह से हड़ताल से प्रभावित रहेंगे। निजी अस्पतालों के डाक्टर इस हड़ताल में शामिल नहीं होंगे। डॉ. डीडी चौधरी ने बताया कि सभी निजी अस्पतालों को पत्र भेजा गया है।

Loading...