सेहत के लिए फायदेमंद है बथुआ, ज्यादा खाया तो हो सकती है ये बीमारी

0

बथुए से बने साग में विटामिन ए, कैल्शियम, फॉस्फोरस और पौटेशियम प्रचुर मात्रा में पाया जाता है. इसके अलावा आपने अपने घर में दादी-नानी से सुना होगा कि बथुए का सेवन कई बीमारियों को दूर करने में किया जाता है. 

सेहत के लिए फायदेमंद है बथुआ, ज्यादा खाया तो हो सकती है ये बीमारी

नई दिल्ली : सर्दियों में हर घर में बथुए का सेवन किया जाता है. स्वाद में अच्छा लगने वाला बथुआ कई तरह से हमारे शरीर को फायदा पहुंचाता है. यह काफी पौष्टिक होता है. इससे बने साग में विटामिन ए, कैल्शियम, फॉस्फोरस और पौटेशियम प्रचुर मात्रा में पाया जाता है. इसके अलावा आपने अपने घर में दादी-नानी से सुना होगा कि बथुए का सेवन कई बीमारियों को दूर करने में किया जाता है. लेकिन इसका सेवन एक लिमिट में ही सही रहता है. ज्यादा खाने पर यह सेहत के लिए नुकसानदेह भी हो सकता है. आगे पढ़िए इससे होने वाले फायदों और नुकसान के बारे में…

बालों के लिए फायदेमंद
बथुआ का सेवन करने से बालों की नेचुरलिटी बरकरार रहता है. यह बालों के लिए आंवले जितना ही गुणकारी रहता है. इसमें विटामिन और खनिज तत्वों की मात्रा आंवले से ज्यादा होती है. आयरन, फॉस्फोरस और विटामिन ए के कारण यह बालों के लिए काफी फायदेमंद रहता है.

दांतों के लिए गुणकारी
बथुए को साग या रोटी में मिलाकर खाने से दांतों से जुड़ी समस्याओं में राहत मिलती है. बथुए की पत्तियों को कच्चा चबाने से सांस की बदबू, पायरिया और दांतों से जुड़ी समस्याएं कम होती हैं.

चर्म रोग दूर करे
यदि आपको स्किन से जुड़ी हुई प्राब्लम है तो बथुए को उबालकर इसका रस पीने और सब्जी बनाकर खाने से चर्म रोग जैसे सफेद दाग, फोड़े-फुंसी, खुजली में आराम मिलता है. बथुए के पत्तों को पीसकर इसका रस निकालें, 2 कप रस में आधा कप तिल का तेल मिलाएं और इसे धीमी आंच पर पकाएं. इसे पीने से स्किन से जुड़ी समस्या दूर होगी.

कब्ज से दें राहत
कब्ज की समस्या आम है. ऐसे में कब्ज से राहत दिलाने में बथुआ बेहद कारगर है. गठिया, लकवा ग्रस्त लोगों के उपचार और गैस की समस्या में यह काफी फायदेमंद साबित होता है.

पाचन शक्ति बढ़ाए
यदि आपको पाचन से जुड़ी परेशानी है तो बथुए का सेवन करें. इसके सेवन से भूख में कमी आना, खाना देर से पचना, खट्टी डकार आना जैसी स्वास्थ्य समस्याओं के में आराम मिलता है.

पीलिया में फायदेमंद
एक कप बथुए और गिलोय का रस मिलाकर रख लें. फिर इसे एक बार में 25 से ग्राम दिन में दो बार पिएं. इसका सेवन करने से आपको पीलिया की समस्या में राहत मिलेगी.

खून साफ करे
बथुए को 4-5 नीम की पत्तियों के रस के साथ खाया जाए तो खून अंदर से शुद्ध हो जाता है. साथ ही ब्लड सर्कुलेशन भी ठीक रहता है. साथ ही बच्चों को कुछ दिनों तक लगातार बथुआ खिलाया जाए तो उनके पेट के कीड़े मर जाते हैं. बथुआ पेट दर्द में भी फायदेमंद है.

ये है नुकसान
बथुए का सेवन करने से पहले हमेशा यह ध्यान रखें कि इसे लिमिटेड ही खाना चाहिए. यदि आप इसे ज्यादा मात्रा में खाते हैं तो यह आपको नुकसान भी दे सकता है. इसमें ऑक्जेलिक एसिड का लेवल बहुत ज्यादा होता है. इसे ज्यादा खाने से आपको डायरिया की भी समस्या हो सकती है.

Loading...