सबसे बड़ा स्टील आर्च ब्रिज होगा जून में तैयार

0

चिन्यालीसौड़ में स्टील आर्च ब्रिज बनने से दिचली-गमरी व टिहरी जनपद को जोड़ने वाला प्रदेश का सबसे बड़ा आर्च ब्रिज होगा। जून 2018 तक यह पुल बनकर तैयार हो जाएगा। चिन्यालीसौड़ में झील के ऊपर बन रहा यह पुल आकर्षण का केंद्र होगा। साथ ही दिचली व गमरी पट्टी के अलग-थलग पड़े 40 गांवों की राह आसान होगी। ये गांव लंबे समय से इस पुल के निर्माण का इंतजार कर रहे हैं।

वर्ष 2006-07 से टिहरी बांध की झील में दिचली-गमरी के लिए बने देवीसौड़ पुल के डूब जाने के बाद क्षेत्र के करीब 40 गांव की 60 हजार आबादी अलग-थलग पड़ गई थी। पुल न होने के कारण इन ग्रामीणों को धरासू से होकर 30 किलोमीटर की अतिरिक्त दूरी तय कर आना-जाना पड़ रहा है। ग्रामीणों की मांग के अनुरूप वर्ष 2012 में चिन्यालीसौड़ से दिचली गमरी क्षेत्र को जोड़ने के लिए स्टील आर्च ब्रिज की स्वीकृति हुई।

यह ब्रिज प्रदेश का सबसे बड़ा स्टील आर्च ब्रिज होगा। इस स्टील आर्च ब्रिज की लंबाई 162 मीटर है। पुनर्वास के ईई सुबोध मैठानी ने बताया कि यह जून में पूरा हो जाएगा। पुल के निर्माण में काफी काम हो चुका है। यह पुल 49 करोड़ की लागत से बन रहा है, जो प्रदेश का सबसे लंबा स्टील आर्च ब्रिज होगा।

सावणी गांव पहुंचने में डीएम को लगा आठ घंटे का समय
यह भी पढ़ें
35 करोड़ से 49 करोड़ बढ़ी लागत

वर्ष 2012 में इस पुल के निर्माण के लिए 35 करोड़ स्वीकृत हुए थे। लेकिन तकनीकी तौर पर अड़चनों की वजह पुल निर्माण की धनराशि में बढ़ोतरी की गई, जिसे बढ़ाकर 49

करोड़ कर दिया गया।

पुल बनने से इन गांवों को मिलेगा फायदा
-जोगत, नेरी, तुल्याड़ा, भड़कोट, बादसी, पुजार गांव, खांड, अनोल, मल्ली, बंधाण गांव, गढ़वालगाड, खालसी, जोगत तल्ला, मल्ला, जगडग़ांव, बगोड़ी, मणी, कुमराड़ा, वनकोट, जुग्याड़ा, कोडारगाड़ सहित 40 से भी अधिक गांव के ग्रामीणों को इस पुल से फायदा मिलेगा।

टिहरी झील के ऊपर चिन्यालीसौड़ में बन रहा स्टील आर्च ब्रिज का आकार धनुष के जैसा है। इस क्षेत्र में यह पुल अपने आकार से पर्यटकों को भी अपनी ओर आकर्षित करेगा। इससे पहले इस प्रकार के स्टील आर्च ब्रिज मध्य प्रदेश और अन्य राज्यों में बनाए जा चुके हैं। पुनर्वास विभाग के ईई सुबोध मैठानी कहते हैं कि नदी व झील के ऊपर स्टील आर्च ब्रिज खूबसूरत लगते हैं। साथ ही धनुषाकार के कारण ये पुल मजबूत माने जाते हैं। केवल इस तरह के पुलों का निर्माण करना काफी जटिल होता है।

जिलाधिकारी (उत्तरकाशी) डॉ. आशीष चौहान का कहना है कि स्टील आर्च ब्रिज निर्माण की हर दिन की अपडेट ले रहा हूं। इस पुल के निर्माण में 40 गांव के ग्रामीणों को राहत तो मिलेगी ही। इसकी सुंदरता भी पर्यटकों को आकर्षित करेगी।

Loading...