राजनीतिक उठापटक को लेकर नेगी दा का नया गीत

0
  • नरेन्द्र सिंह नेगी जी के गीतों का तो सभी को इंतजार रहता है लेकिन उससे भी जयादा इंतजार राजनेतिक गीतों को लेकर रहता है इसी क्रम में 2017 चुनाव से पहले उनकी नयी रचना बनकर तैयार हो गयी है जिसके बोल कुछ इस प्रकार से  हैं –

भ्रष्टाचारै बास नि ऐ
लोकायुक्त रास नि ऐ, डौर कैकि हूण…
तन्निले तान तनी तून
तन्नि ढेबरि तन्नि ऊन
तेरिभि सुणला दाजु
पैलि उतराखण्डै सूण…

गीत के बोल _

दारू खनन भूमाफ्योंकी
बारामासी बग्वाळ यख
अफसर नेतौंकि दाज्यू
पट्ट बोटीं अंग्वाळ यख
भ्रष्टाचारै बास नि ऐ
लोकायुक्त रास नि ऐ, डौर कैकि हूण…
तन्निले तान तनी तून
तन्नि ढेबरि तन्नि ऊन
तेरिभि सुणला दाजु
पैलि उतराखण्डै सूण…

थोरि थोरडा बागि ह्वे गिनी
कख भेजिछा कख पौंछिनी
काँग्रेस बल नौकी रैगे
भाजप्पा काँग्रेस ह्वेगे
हम त् वे ही दल का भुलू
जख कुटुम्मदरि टिकट मिलू
फैदा याँमै हूण…
तन्निले तान तनी तून-
तनि ढेबरी तन्नी ऊन
तेरि भि सुणला दाजू पैलि
उतराखण्डै सूण…

Loading...