दुनिया के पंच सिताारा होटलों में सितारा बनकर चमक रहा उत्तराखण्ड का सितारा एन एस रावत मिला अंतराट्रीय गोल्ड मेडल

0
  • न पूछो मंजिल कहाँ है अभी सफर का इरादा किया है                
  •  न हारुगा हौसला उम्र भर किसी से नही खुद से वादा किया है ।
  •  5 वर्ष विश्वप्रसिद्ध शेफ संजीव कपूर के यलो चीली में सेवा दी ।
  •  वर्ड मास्टर शेफ का 2017 का गोल्ड मेड़ल स्कोटलैंड
  •  अक्षय कुमार, राजपाल यादव के पंसीदा शेफ हैं एन, एस रावत।

यह पंक्तियाँ सटीक बैठती है वर्ड मास्टर शेफ का खिताब हासिल कर चूके टिहरी  जनपद के हिरवाल गाँव निवासी नत्थे सिंह रावत पर । वैसे उत्तराखण्ड़ीयों ने अपनी प्रतिभा का लोहा हर क्षेत्र में मनवाया है वैसे यदि होटल लाईन की बात की जाय तो शायद दुनिया का कोई ही देश होगा जहाँ उत्तराखण्डी  एन एस रावत जैसे वर्ड मास्टर शेफों ने यह साबित कर दिया का देवभूमि के लालों का डंका पुरी दुनिया में बजरहा है एसा उदाहरण दिया रावत ने वह बताते हैं की उन्होंने अपने करियर की शुरुआत महिने की 300 रुपये की नोकरी देहरादून से की थी बचपन में छोटी से उम्र से वह घर से भाग गये थे उन्होंने नोकरी के साथ प्रावेट से हाईस्कूल व इंटर की परिक्षा पास की उसके ततपश्यात 1 साल का होटल मैनेजमेंट का  डिप्लोमा भी हासिल किया ।

जब नत्थे सिंह रावत मात्र 17 वर्ष के थे तो उनके सर से उनके पिता का साया उठ गया  7 भायों बहिनों में नत्थे सिंह सबसे बडे भाई थे पिता के देहांत के बाद घर का सारा बोझ उनके सर पर आगया पर उन्होने हिम्मत नहीं हारी और समस्याओं के पहाड़ को लांघकर अपने लक्ष्य को हासिल करने के लिए कठोर मेहनत की और धीरे – धीरे रावत की मेहनत सफलता में बदल गयी है वह बताते हैं की असली करियर की शुरुआत मैने बड़ोदा से की और उसके बाद उन्होने पिछे मुड़कर नही देखा और उसी का परिणाम है की उन्होने विश्व प्रसिद्ध पाक कला के शेफ संजीव कपूर के साथ उन्होंने 5 साल उन्के पंच सितारा रेस्तरा में   काम किया जहाँ उन्के खाने व प्रजनटेशन की संजीव कपूर ने जमकर सहराना की इसके अलावा एन एस रावत ने कई नामी पंच सितारा होटलों में जैसे लीला, चिड़ होटल इंडियन , रिलायंस मार्ट मुम्बई , पेट लौन रिटेल इंडिया , बिगबजार   सेवा देकर ब्यजननों के जायका के साथ- साथ अपनी एक अलग पहचान बनाई हैं आज एन एस रावत का नाम होटल लाईन में बड़े सम्मान व आधार के साथ लिया जाता है इतनी मेहनत व लगन का परिणाम है की उनको गत वर्ष 2017-18 में अंतराष्टीय मास्टर शेफ में गोल्ड मेडल  मास्टर शेफ के अवार्ड से नवाजा गया जो उत्तराखण्ड के साथ देश के लिए गौरव की बात है इतना ही नहीं रावत का नाम गोल्डन बुक में भी अपना नाम दर्ज करवाया है ।

रावत वर्तमान में नर्मदा जेकशन में इजूकेटिव शेफ के पद पर शुशोभित है हम तो यहीं कहेगे उत्तराखण्ड का सितारा चमक रहा है दुनिया के पंच सितारा होटलों में ।

 

Loading...