तमिलनाडु विधानसभा में बवाल, स्पीकर से मारपीट-फेंकी गई कुर्सियां

0

तमिलनाडु विधानसभा के विशेष सत्र में मुख्यमंत्री ईके पलानीस्वामी की ओर से पेश किए गए विश्वास मत प्रस्ताव पर वोटिंग शुरू हो गई है। इस दौरान द्रमुक विधायकों ने जोरदार हंगामा किया और उन्होंने पन्नीरसेल्वम के समर्थन में जमकर नारे लगाए। इसी दौरान गुप्त मतदान की मांग को लेकर द्रमुक विधायकों ने कुर्सियां तोड़ी, फेंकी और पेपड़ फाड़े। वहीं स्पीकर से हाथापाई होने की भी खबर है। इसी दौरान जोरदार हंगामे के बाद तमिलनाडु विधानसभा 1 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई। विधानसभा में विश्वासमत हासिल करने की प्रक्रिया में दो और विधायकों की संख्या घट गयी है। अब मात्र 228 विधायकों पर फ्लोर टेस्ट हो रहा है।

वहीं विश्वास प्रस्ताव पर कुछ नेताओं के बयान आए हैं। एमके स्टालिन ने कहा कि जब राज्यपाल ने बहुमत साबित करने के लिए 15 दिन दिए तो इतनी जल्दबाजी क्यों।
DMK नेता एमके स्टालिन ने गुप्त मतदान पर जोर दिया।
विधानसभा में स्पीकर ने विपक्ष के नेता एमके स्टालिन को बोलने की इजाजत दी।
बहुमत परीक्षण जारी, पहले ब्लॉक का वोट ई. पलनिसामी के पक्ष में। 6 ब्लॉक करेंगे वोट। हर ब्लॉक में 38 विधायक।
विधानसभा में विश्वासमत पर वोटिंग शुरू हुई।
तमिलनाडु विधानसभा के दरवाजे बंद किए गए।
तमिलनाडु विधानसभा स्पीकर ने गुप्त मतदान की मांग खारिज की।
तमिलनाडु विधानसभा में बहुमत परीक्षण शुरू।
Loading...