चमोली : सीएम त्रिवेंद्र रावत बोले- पहाड़ में भांग की खेती को बढ़ावा देंगे

0

शनिवार को विकासखण्ड कर्णप्रयाग के कालेश्वर कस्बे में हिमालयन एक्शन रिसर्च सेन्टर (हार्क) के उद्घाटन के मौके पर सीएम त्रिवेन्द्र रावत ने कहा कि उत्तराखंड में भांग की खेती को बढ़ावा दिया जायेगा। भांग की खेती के लिए एक हजार नाली भूमि में भांग के बीज तैयार करके किसानों को बांटे जायेंगे।

शनिवार को कॉलेश्वर पहुंचे सीएम त्रिवेन्द्र रावत ने कहा गांवों के विकास का मंत्र खेतों में है। कहा हार्क के संस्थापक और निदेशक महेन्द्र कुंवर ने युवाओं के लिए एक मॉडल पेश किया है। यहां पर 16 तरह के उत्पाद बन रहे हैं और 14 के उत्पाद और बनने हैं। बड़े उद्योगों को पहाड़ में नहीं लगा सकते हैं। उन्होंने हार्क संस्था द्वारा तैयार किये गये उत्पादों की सराहना करते हुए कहा कि जंगली फलों की सही ढंग से प्रोसेसिंग कर उत्तम उत्पाद तैयार किये जा रहे हैं। जिससे स्थानीय महिला स्वयं सहायता समूहों को स्वरोजगार के अवसर भी मिल रहे है। कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री ने उत्कृष्ट कार्य करने वाली महिलाओं को सम्मानित किया तथा हार्क संस्था द्वारा तैयार किये 14 उत्पादों की माउन्टेन वैन को हरी झण्डी दिखाकर देहरादून में मार्केटिंग के लिए रवाना किया।

सहकारिता एवं उच्च शिक्षा राज्य मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा किसानों की आय दोगुनी करने के लिए मात्र दो प्रतिशत ब्याज पर लघु एवं सीमांत किसानों को एक लाख रुपये तक का ऋण दिया जा रहा है। जिसके तहत अभी तक 1.25 लाख से अधिक किसानों को लाभान्वित किया जा चुका है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में 2800 महिला स्वयं सहायता समूह बनाये गये हैं। सरकार का लक्ष्य 5 हजार महिला स्वयं सहायता समूहों को तैयार स्वरोजगार के अवसर प्रदान करना है। उन्होंने कहा कि प्रत्येक जिले में मार्केटिंग सोसायटी भी बनायी जा रही है।

हार्क संस्था विगत 30 वर्षों से हिमालय क्षेत्र के सीमांत किसानों के साथ आजीविका से संबधित गतिविधियों में कार्य कर रही है, जिसमें बागवानी, कृषि एवं सहकारिता उत्पादों को तैयार किया जा रहा है। महिला सहकारिता का गठन हार्क ने 10 वर्ष पूर्व कालेश्वर में किया था, जिसमें वर्तमान में दो हजार महिलाएं जुड़ी हैं। हार्क संस्था द्वारा दो ब्रान्डों में 30 से अधिक उत्पाद तैयार किये जा रहे हैं। इस मौके पर कर्णप्रयाग विधायक सुरेन्द्र सिंह नेगी, पूर्व विधायक अनसूया प्रसाद मैखुरी, डीजी यू-कॉस्ट डा. राजेन्द्र डोभाल, हार्क संस्था के सचिव महेन्द्र सिंह कुंवर, डीएम आशीष जोशी, एपी तृप्ति भट्ट, एसडीएम केएन गोस्वामी मौजूद रहे।

Loading...