कहां-कहां अब भी चलेगा 500 का पुराना नोट?

0

नोटबंदी के बाद भारतीय सरकार ने एक बड़े फ़ैसले में 24 नवंबर की मध्यरात्रि से 500 और 1000 के नोटों के बदलने पर पूरी तरह से रोक लगा दी है. इसके साथ ही सरकार ने कुछ और रियायतों को 15 दिसंबर 2016 तक बढ़ा दिया है. लेकिन इन जगहों पर भी सिर्फ़ 500 का पुराना नोट ही स्वीकार किया जाएगा. हज़ार रुपए का नोट पूरी तरह से अब बंद हो चुका है.
वित्त मंत्रालय ने एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा, कि वो नोटबंदी के बाद पुराने नोटों से जुड़ी सभी मुश्किलों पर विचार कर रही है.
पढ़ें – रिज़र्व बैंक के गवर्नर उर्जित पटेल हाज़िर हों….
मंत्रालय का कहना है कि बीते दिनों में बैंकों में पुराने नोटों के बदलने का ट्रेंड घटा है. सरकार को भरोसा है कि इससे लोग पुराने नोट अपने बैंक खातों में जमा करने के लिए उत्साहित होंगे और वो लोग जिनके पास पुराने नोट हैं वे नए बैंक खाते खुलवाएंगे.
पुराने नोटImage copyrightAFP
कुछ जगहों पर 500 के पुराने नोटों के इस्तेमाल के लिए रियायतें दी गई हैं. ये सभी रियायतें 24 नवंबर 2016 की मध्यरात्रि से 15 दिसंबर तक लागू होंगी.
पानी और बिजली के बिल अभी भी पुराने 500 के नोटों में जमा किए जा सकते हैं.
केंद्र सरकार, राज्य सरकार, म्यूनिसिपल और नगर निगम के स्कूलों 2000 रुपये तक की फ़ीस (एक बच्चे की) आप पुराने 500 के नोटों में चुका सकते हैं.
केंद्र या राज्य सरकार के कॉलेजों में फीस पुराने नोटों में दी जा सकती है.
अपने प्रीपेड मोबाइल फ़ोन में आप 500 रुपये तक टॉप-अप पुराने नोट के ज़रिए डाल सकते हैं.
कंज़्यूमर कोऑपरेटिव दुकानों से सामान ख़रीदने की सीमा एक दिन में 5000 रुपये तक कर दी गई है.
वित्त मंत्री अरुण जेटलीImage copyrightBBC SPORT
Image caption
वित्त मंत्री अरुण जेटली
विदेशी पर्यटक अब एक सप्ताह में 5000 रुपये तक के विदेशी नोट बदल सकेंगे. इससे संबंधित जानकारी उनके पासपोर्ट में दर्ज की जाएगी.
तीन दिसंबर से टोल टैक्स में पुराने 500 रुपये के नोट लिए जाएंगे, यह 15 दिसंबर तक लागू रहेगा. दो दिसंबर तक कोई टोल टैक्स नहीं लगेगा.

Loading...