ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर अब दोस्त नहीं : कोहली

0

धर्मशाला : मौजूदा टेस्ट श्रृंखला में मैदान के भीतर और बाहर निशाना बनाये गए भारतीय कप्तान विराट कोहली ने आज कहा कि अब वह ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटरों को अपना दोस्त नहीं मानते.‘डीआरएस ब्रेन फेड’ प्रकरण के बाद कोहली ने ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव स्मिथ को लगभग धोखेबाज कह डाला था जिसके बाद ऑस्ट्रेलिया के मौजूदा और पूर्व क्रिकेटरों के साथ उनके मीडिया ने भी भारतीय कप्तान को निशाना बनाया. यहां तक कि उनकी तुलना अमेरिका के विवादित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से की गई.

[ads1]

22 फरवरी को पुणे टेस्ट से पहले विराट ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में ऐसा कहा था-
हमलोग मैदान से बाहर अच्छे दोस्त हैं. मैं उनलोगों को अच्छी तरह जानता हूं.  लेकिन मुझे पता है कि मुझे कहां दोस्ती की रेखा खींचनी चाहिए. मैदान में जरूरी नहीं कि उनके खिलाफ असली भाई की तरह खेलूं.

[ads1]

विराट की धारणा बदली, 28 मार्च को धर्मशाला टेस्ट के बाद ऐसा कहा-
हां…उनके प्रति मेरी धारणा बदल चुकी है. मैंने शुरुआत में जो कुछ भी कहा था, सीरीज को प्रतिस्पर्धी बनाने के लिए कहा था. लेकिन मैं पूरी तरह गलत साबित हुआ. अब आप दोबारा मुझे से ऐसा कहते कभी नहीं सुनोगे.

[ads1]

आइए जानते हैं आखिर इन 34 दिनों ऐसा क्या हो गया, जिससे विराट का मन बदला

1. बंगलुरु टेस्ट में टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया को 75 रनों से जरूर मात दी, लेकिन डीआरएस पर दोनों कप्तानों के बीच तनातनी ने खिलाड़ियों का ध्यान विवाद की और मोड़ दिया. विराट ने डीआरएस मुद्दे पर स्टीव स्मिथ पर निशाना साधा और धोखेबाज कहा. ( स्मिथ के LBW डिसिजन पर DRS लेने से पहले ड्रेसिंग रूम से पूछने के विवाद ने तूल पकड़ा)

Loading...