एक और प्रद्युम्न कांड, स्कूल के बाथरूम में मृत मिला छात्र

0

 दिल्ली में प्रद्युम्न जैसा एक और कांड सामने आया है. उत्तर पूर्वी दिल्ली के थाना खजूरी खास इलाके के सादतपुर स्थित इंटर कॉलेज जीवन ज्योति स्कूल में 16 वर्षीय ​तुषार की संदिग्ध हालत में मौत हो गई. उसका भी शव स्कूल के बाथरूम में मिला. वह अपने मां-बाप की इकलौती संतान था. वह जीवन ज्योति पब्लिक स्कूल में नौवीं क्लास में पढ़ता है.इस घटना ने एक  बार फिर से गुरुग्राम के रेयान स्कूल में प्रद्युम्न हत्याकांड की याद को ताजा कर दिया है. बिल्कुल उसी तरह से दिल्ली के इस नामी स्कूल में छात्र तुषार का बाथरूम से शव मिला. सुबह प्रार्थना के दौरान उस पर हमले की आशंका जताई जा रही है.वहीं, तुषार की मौत से गुस्साए परिजनों ने स्कूल का घेराव किया. परिजनों ने बताया कि रोजाना की तरह गुरुवार को भी तुषार करीब सुबह 8:00 बजे स्कूल के लिए घर से निकला था. इसके बाद स्कूल से अचानक सूचना आई कि तुषार बेहोश पड़ा हुआ है. तुषार को पहले नजदीक के मावी अस्पताल ले जाया गया, जहां से जीटीबी अस्पताल रेफर किया गया, लेकिन इतनी भागदौड़ से पहले ही बच्चा मर चुका था. जीटीबी अस्पताल में डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया.परिजनों का आरोप है कि स्कूल प्रशासन ने बच्चे की मौत का सच छिपाया, क्योंकि बच्चे की मौत स्कूल में ही हो गई थी. दिल्ली पुलिस की मानें तो बच्चे का शव स्कूल के बाथरूम में संदिग्ध हालत में मिला था. बच्चे के शरीर पर किसी तरह के चोट के निशान नहीं हैं, तो फिर सवाल ये है कि बच्चे की मौत कैसे हुई?इस मामले में स्कूल के प्रिंसिपल का कहना था कि उसकी मौत स्कूल के गलियारे में पैर फिसलकर गिरने से हुई थी. जबकि बाद में पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा हुआ था कि सिर में अंदरूनी चोटे लगने से मौत हुई है. इसके अलावा दिल्ली के कापसहेड़ा में नगर निगम स्कूल में पढ़ने वाले एक पांच साल के मासूम अंकित की सेप्टिक टैंक में डूबने के चलते मौत हो गई थी. इस मामले में पुलिस ने स्कूल पर लापरवाही का केस भी दर्ज किया था.

Loading...