ऋषिकेश में स्वामी चिदानन्द सरस्वती के 67वें जन्मदिवस के अवसर पर पर्यावरण संरक्षण के परिप्रेक्ष्य में आयोजित श्रीराम कथा में सीएम त्रिवेन्द्र रावत हुए शामिल

0
मुख्यमंत्री  त्रिवेन्द्र सिंह रावत, रविवार को परमार्थ निकेतन, ऋषिकेश में स्वामी चिदानन्द सरस्वती के 67वें जन्मदिवस के अवसर पर पर्यावरण संरक्षण के परिप्रेक्ष्य में आयोजित श्रीराम कथा में शामिल हुए। इस अवसर पर मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने स्वामी चिदानन्द सरस्वती को जन्मदिवस की शुभकामनाएं दी व उनके स्वस्थ दीर्घायु जीवन की भी कामना की।
 इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने विभिन्न क्षेत्रों से आये श्रद्धालुओं को गंगा की स्वच्छता के लिये अपना सहयोग देने की अपील की। उन्होंने पर्यावरण संरक्षण, हरियाली व स्वच्छ भारत मिशन में परमार्थ निकेतन द्वारा किये जा रहे प्रयासों की सराहना भी की। मुख्यमंत्री ने कहा कि परमार्थ निकेतन द्वारा रिस्पना नदी के संरक्षण एवं संवर्द्धन के लिए विभिन्न प्रकार के पौधों का रोपण किया गया है, जो एक सहारनीय प्रयास है। उन्होंने लोगों से गंगा को स्वच्छ, निर्मल एवं अविरल बनाए रखने के लिये गंदे नालों को रोकने, कूडा-करकट, प्लास्टिक व अन्य अवांछित वस्तुओं को नदी में न फेंकने का अनुरोध किया। इस अवसर पर स्वामी चिदानन्द सरस्वती ने मुख्यमंत्री को परमार्थ निकेतन की ओर से रूद्राक्ष के पौधे व गंगाजलि भेंट की।
इस अवसर पर केंद्रीय मानव संसाधन राज्य मंत्री सत्यपाल सिंह, शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक, पतंजलि संस्थान के आचार्य बालकृष्ण, जत्थेदार पटनासाहिब गुरूद्वारा इकबाल सिंह एवं विभिन्न धर्मो के मनिषियों के अलावा कैलिफोर्नियां, जापान, चीन तथा तिब्बत आदि देशों के श्रद्धालु भी उपस्थित थे।
Loading...