उत्तराखंड बजट 2018 : 5 लाख तक सालाना आय वाले परिवारों को मिलेगा मुफ्त इलाज

0

त्रिवेंद्र सरकार ने राज्य के 23 लाख परिवारों का स्वास्थ्य बीमा कराने का फैसला लिया है। पांच लाख तक वार्षिक आमदनी वाले इस दायरे में आएंगे। बजट में सरकार ने इसका प्रावधान भी कर दिया है। अब इसकी नियमावली तैयार की जाएगी। अभी तक इनकम टैक्स के दायरे में न आने वाले व्यक्तियों को सीएम स्वास्थ्य बीमा योजना का लाभ मिलता था। इसके तहत परिवार के सभी सदस्यों को कुल पौने दो लाख तक मुफ्त इलाज मिलता था।

भाजपा ने एक साल पहले विधानसभा चुनावों के वक्त अपना 12 पेज का विजन डॉक्यूमेंट घोषित किया था, जिसे तब केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने जारी किया था। इसमें शिक्षा, स्वास्थ्य, पर्यटन, कृषि-बागवानी, ऊर्जा, सड़क, कौशल विकास, भ्रष्टाचार मुक्त शासन पर फोकस किया था। इस दिशा में अब राज्य सरकार एक कदम और आगे बढ़ी है और पांच लाख रुपये तक सालाना आय वालों को भी फ्री इलाज की योजना में शामिल कर लिया गया है, यानी परिवार के सदस्यों को प्राइवेट अस्पतालों में भी पांच लाख रुपये तक खर्चा आने पर कोई पैसा नहीं देना होगा।

मोदी सरकार ने हाल ही में आष्युमान भारत योजना शुरू की है। इसके तहत दस करोड़ लोगों का पांच लाख रुपये बीमा कराया जाना है। केंद्र ने अभी इसकी गाइड लाइन तैयार नहीं की है। माना जा रहा है कि केंद्र की इस योजना के दायरे से जो लोग वंचित हो जाएंगे, उन्हें राज्य सरकार स्वास्थ्य बीमा  योजना में शामिल करेगी। उधर, संसदीय कार्य मंत्री प्रकाश पंत ने बताया कि सरकार ने पांच लाख स्वास्थ्य बीमा के लिए बजट में प्रावधान किया है, जल्द ही इसी गाइड लाइन तैयार की जाएगी।

ये कदम उठाएगी सरकार

राज्य के सभी व्यक्तियों का स्वास्थ्य बीमा
एक लाख परिवारों का आवासीय सुविधा
एक लाख युवाओं सेवा क्षेत्र में नौकरियां
एक लाख युवाओं को स्किल
250 से अधिक आबादी वाले गांव सड़कों से जुड़ेंगे
200 स्टार्टअप होंगे शुरू
राज्य के प्रत्येक परिवार को गैस चूल्हा

इन वादों पर प्रावधान नहीं 

गैरसैंण को ग्रीष्मकालीन राजधानी घोषित करना
प्रत्येक जिले में छात्राओं के लिए आवासीय विद्यालय
हर ब्लाक में सस्ती दवा केंद्रों की स्थापना
प्रदेश में एअर एंबुलेंस की सुविधा
सभी किसानों का फसली ऋण माफ a

Loading...