अखिलेश ने पिता से की थी बदतमीजी, जानिए पूरा सच

0

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है। दावा किया जा रहा है कि अखिलेश यादव ने अपने पिता व सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह से बदतमीजी की थी। वीडियो में अखिलेश यादव अपने पिता से माइक छीनते नजर आ रहे हैं। सपा नेता आशू मलिक जब अखिलेश के कंधे पर हाथ रखकर उन्हें रोकने की कोशिश करते हैं तो मुख्यमंत्री उन्हें धक्का दे देते हैं। बताया जा रहा है कि ये घटना 24 अक्टूबर 2016 की है।

24 अक्टूबर की सुबह 8 बजे से ही अखिलेश यादव के समर्थन में कार्यकर्ता पार्टी मुख्यालय के बाहर जुटने लगे,नारेबाजी शुरू हुई। करीब 9 बजे सभी विधायक,मंत्री,सांसद व पूर्व सांसद मुख्यालय पहुंचने लगे। सबसे पहले पूर्व मंत्री ओम प्रकाश मंच पर माइक संभालते हुए समाजवादी आंदोलन और मुलायम सिंह के संघर्ष की बात करते हैं। कार्यकर्ताओं की नारेबाजी देखते हुए ओमप्रकाश शिवपाल सिंह यादव को बोलने के लिए मंच पर बुलाते हैं।

शिवपाल सभा में मौजूद सभी का स्वागत करते हुए कहते हैं,हम सभी पार्टी को 2017 के विधानसभा चुनाव में फिर से पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने का संकल्प लेकर जाएंगे। कुछ लोग पार्टी को बदनाम करने वाले हैं और सांप्रदायिक ताकतों से जाकर मिल गए हैं। अनुशासनहीनता करने वालों को मैं चुन चुन कर बाहर का रास्ता दिखाऊंगा। शिवपाल अपनी बात कह ही रहे थे तभी अखिलेश यादव मंच पर आते हैं। कार्यकर्ता अखिलेश यादव जिंदाबाद के नारे लगाते हैं। शिवपाल सिंह नारेबाजी से नाराज हो जाते हैं। कहते हैं,गुंडागर्दी नहीं चलेगी।

शिवपाल कहते हैं, आज मीटिंग है,इसलिए नारेबाजी नहीं करनी चाहिए। आज सिर्फ कैबिनेट मंत्रियों,विधायकों,सांसदों,पूर्व सांसदों और पार्टी के वरिष्ठ पदाधिकारियों को बुलाया गया है। मीटिंग में कोई कार्यकर्ता शामिल नहीं हो सकता। आप लोग आ गए हो तो कम से कम नारेबाजी मत करो। जो कहा जा रहा है उसे सुनो,वरना उठकर चले जाओ। हमें पता है कि तुम लोगों को क्यों भेजा गया है। मैं सब जानता हूं लेकिन ध्यान रखो,हम चाहते हैं इसलिए ही तुम यहां बैठे हो,नहीं तो अब तक बोलते नहीं। यहां दलालों,जमीन पर कब्जा करने वालों की नहीं चलेगी।

अखिलेश यादव कार्यकर्ताओं से शांत रहने का आग्रह करते हैं लेकिन नारेबाजी बंद नहीं होती। आखिर में अखिलेश यादव माइक की तरफ बढ़ते हैं,लेकिन शिवपाल उन्हें दूर रहने का इशारा करते हैं। अखिलेश यादव वापस अपनी जगह पर बैठ जाते हैं। शिवपाल सिंह का गुस्सा और बढ़ जाता है। वह कहते हैं,जिन लोगों को पार्टी से बाहर निकाला गया,वो अंदर कैसे आ गए। उन्हें पूरी तरह से बाहर होना चाहिए। इस पर कार्यकर्ता नाराज हो जाते हैं। एक बार फिर अखिलेश यादव माइक की तरफ बढ़ते हैं लेकिन शिवपाल उन्हें रोकते हुए माइक अपनी तरफ घुमा लेते हैं और अखिलेश को दूर रहने का इशारा करते हैं।

इससे अखिलेश गुस्सा हो जाते हैं और फिर अपनी जगह पर बैठ जाते हैं। नारेबाजी न रुकता देख एक मंत्री अखिलेश यादव से नारेबाजी रुकवाने का आग्रह करते हैं तो मुख्यमंत्री हाथ हिलाकर चाचा की तरफ इशारा करते हैं। शिवपाल का भाषण खत्म होते ही किरणमय नंदा माइक संभालते हैं। तभी अखिलेश यादव उठते हैं और नंदा के हाथ से माइक ले लेते हैं। अखिलेश कहते हैं,मेरे ऊपर इतने इल्जाम लगाए जा रहे हैं। कम से कम मुझे अपनी बात कहने का मौका तो मिलना चाहिए। इस बीच नेताजी के आने की सूचना मिलती है। सभी उनके सम्मान में खड़े होते हैं। अखिलेश पिता के पैर छूते हैं लेकिन कोई जवाब नहीं मिलता।

मुलायम सिंह के पीछे खड़े होकर शिवपाल बार बार कह रहे थे तुमने पार्टी खराब की,नेताजी का कहना नहीं माना,नेता जी,ये मुट्ठी भर लोग पार्टी पर कब्जा करना चाहते हैं। ये जमीनों पर कब्जा करते हैं। ये गुंडे हैं,पाटी खराब करने पर तुले हैं। इस पर अखिलेश यादव पीछे हटते हैं और कहते हैं,अमर सिंह ने मेरे खिलाफ एक समाचार पत्र में पहले पेज पर खबर छपवाई थी,जिसमें मुझे शाहजहां और तानाशाह बताया गया। कहा गया कि मैंने सत्ता पर कब्जा किया है। आशु मलिक को बुलाते हुए अखिलेश यादव कहते हैं कि ये आशु मलिक जानता है कि वो खबर अमर सिंह ने छपवाई थी। तभी मुलायम के पास लगा माइक लेकर बोलने के लिए अखिलेश यादव आते हैं तो मुलायम सिंह रोक लेेते हैं।

आशु मलिक मुख्यमंत्री के कंधे पर हाथरखकर उन्हें रोकने की कोशिश करते हैं लेकिन अखिलेश यादव उसे झटक देते हैं। यहीं से अखिलेश यादव के कमांडो आशु मलिक को पीछे करके मुख्यमंत्री की सुरक्षा के

लिए घेरा बनाते हैं और दूसरी तरफ शिवपाल माइक पर जोर जोर से कहने लगते हैं,मुख्यमंत्री झूठ बोल रहे हैं। इसी के साथ अखिलेश यादव भी माइक पर बोलने के लिए आगे बढ़ते हैं लेकिन चाचा उन्हें धक्का दे देते हैं। इसके बाद अखिलेश माइक फेंकते हुए मंच से उतकर बाहर की तरफ चले जाते हैं। इसके बाद शिवपाल और मुलायम के कमांडो अलग अलग रास्तों से उन्हें निकालते हैं और मंच खाली हो जाता है।

Loading...