पीएमएवाईजी और मनरेगा के निर्माण कार्यों में उत्तराखंड फर्स्ट

0
प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण (पीएमएवाईजी) में पात्र लाभार्थियों के आवासों का निर्माण कार्य पूरा करने में उत्तराखंड ने देश में पहला स्थान प्राप्त हुआ है।

वहीं, योजना में उत्कृष्ट कार्य करने पर ऊधमसिंह नगर जनपद के गदरपुर ब्लाक की ग्राम पंचायत जाफरपुर की प्रधान वर्षा बाठला और आनंदखेड़ा पंचायत के वीडीओ सुधेंदु को पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा। ग्राम्य विकास मंत्रालय की ओर से 19 दिसंबर को दिल्ली में आयोजित सम्मान समारोह में ये पुरस्कार दिए जाएंगे।

सामाजिक आर्थिक जातीय गणना 2011 के आधार पर पीएमएवाईजी योजना के तहत प्रदेश में 12666 आवास विहीन लाभार्थी पात्र पाए गए। इसके सापेक्ष प्रदेश में 12325 लाभार्थियों के आवासों का कार्य पूरा किया गया। योजना में 540 भूमिहीन परिवारों में 491 को भूमि पट्टा और आवास आवंटित किए जा चुके हैं।

ग्राम्य विकास मंत्रालय ने योजना को बेहतर ढंग से क्रियान्वित कर लाभार्थियों को लाभ पहुंचाने में सभी राज्यों की रैकिंग की गई। जिसमें लक्ष्य के सापेक्ष लाभार्थियों के आवासों को पूरा करने की श्रेणी में उत्तराखंड को देश में पहला स्थान मिला है।

वहीं, योजना में उत्कृष्ट कार्य के लिए व्यक्तिगत पुरस्कार की श्रेणी में ग्राम पंचायत जाफरपुर की प्रधान वर्षा बाठला और ग्राम पंचायत आनंदखेड़ा (गदरपुर) के ग्राम विकास अधिकारी सुधेंदु को केंद्र सरकार की ओर से पुरस्कृत किया जाएगा।

पीएमएवाईजी योजना में मनरेगा के तहत भी 12300 शौचालय का निर्माण और 3920 लाभार्थियों को उज्जवला योजना के तहत एपीजी गैस कनेक्शन वितरित किए गए। जबकि 8113 लाभार्थियों का पेयजल व 7733 को विद्युत कनेक्शन दिए गए। अपर सचिव ग्राम्य विकास राम बिलास यादव ने बताया कि पीएमएवाईजी योजना में प्रदेश को देश में पहला स्थान प्राप्त होना गौरव की बात है।

Loading...