मुख्यमंत्री ने कहा कि अधिकतर सड़कें हम पीएमजीएसवाई के अंर्तगत बना रहे है।

मुख्यमंत्री  तीरथ सिंह रावत ने जिला सभागार में कोविड-19 की समीक्षा व आपदा की तैयारियों को लेकर अधिकारियों की बैठक ली।

लोक निर्माण,पीएमजीएसवाई व एनएच को मानसूनकाल में आपदा से निपटने के लिए पर्याप्त संसाधन मौजूद रखने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि अधिकतर सड़कें हम पीएमजीएसवाई के अंर्तगत बना रहे है। इसलिए ग्रामीण सड़कों के नए निर्माण कार्य में नाली ,स्कबर आदि तय मानकों के अनुरूप बनाए व गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखा जाय। मुख्यमंत्री ने कहा कि जल जीवन मिशन के अंर्तगत पहले चरण में पाइप लाइन बिछा दी गई है व स्टैंड पोस्ट बना दिए गए है। अब दूसरे चरण में स्रोत से ग्रामीणों को पानी मुहैया कराने हेतु जल संस्थान व जल निगम तेजी से कार्य करना सुनिश्चित करें। इस हेतु धन की कमी नही है। विद्युत विभाग के पास आपदा के दौरान लाइनमैन की कमी को देखते हुए विद्युत आपूर्ति तत्काल बहाल के लिए पीआरडी के माध्यम से लाइनमैन की तैनाती करने के निर्देश जिलाधिकारी को दिए। पूर्ति विभाग को सामान्य राशन वितरण के साथ ही मानसूनकाल का खाद्यान्न वितरण में भी तेजी लाने के निर्देश दिए। तीन चार महीने का डीजल व पेट्रोल एडवांस में रखने को कहा। इससे पूर्व मुख्यमंत्री ने कोविड-19 की समीक्षा की। तथा नवनिर्मित मनेरी थाना का बर्चुअल लोकार्पण किया।

जिलाधिकारी श्री मयूर दीक्षित ने जनपद में कोविड-19 संक्रमण के प्रभावी नियंत्रण व रोकथाम को लेकर किए गए समस्त कार्यों/उपायों के बारे में विस्तृत जानकारी प्रस्तुतिकरण के माध्यम से दी।

इस अवसर पर राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार स्वामी यतीश्वरानंद,जिला पंचायत अध्यक्ष दीपक विजलवाण, विधायक पुरोला राजकुमार,जिलाध्यक्ष भाजपा रमेश चौहान,जिलाधिकारी मयूर दीक्षित,पुलिस अधीक्षक मणिकांत मिश्रा,ब्लाक प्रमुख भटवाड़ी विनीता रावत,डुंडा शैलेन्द्र कोहली सहित जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद थे।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed