चौथी से 12वीं कक्षा तक के सिलेबस में संशोधन

0

उत्तराखंड के सरकारी स्कूलों के छात्र पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की मशहूर कविता ‘कदम मिलाकर चलना होगा’ भी पढ़ेंगे। इसके साथ ही कक्षा 11 और 12 में संस्कृत में दो नए पाठ शामिल किए गए हैं।  राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद (एनसीईआरटी) के निर्देश पर वर्तमान शैक्षिक सत्र से ये बदलाव लागू हो जाएंगे। राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद (एससीईआरटी) के अपर निदेशक अजय कुमार नौडियाल ने सभी सीईओ और डायट प्राचार्य को नए बदलाव के बाबत पत्र भेजा है। नौडियाल के अनुसार, यह बदलाव वर्ष 2019-20 से ही लागू होगा। कुछ पाठों को हटाया गया है तो नए विषय भी जोड़े गए हैं।

ये पाठ हटाए गए
कक्षा चार: अंग्रेजी की मेरीगोल्ड से ‘आई हेड लिटिल पोनी’ और ‘द मिल्क मैन्स काउ’ पाठ
कक्षा पांच: अंग्रेजी की मेरीगोल्ड से ‘अराउंड द वर्ल्ड’
कक्षा आठ: अंग्रेजी पुस्तक हनीड्यू से ‘डक एंड द कंगारू’।
नाम बदला: कक्षा छह में सामाजिक विज्ञान की हमारा अतीत के पाठ ‘आरंभिक मानव की खोज में’ का नाम ‘आखेट खाद्य संग्रह में भोजन उत्पादन’

नए पाठ शामिल
कक्षा आठ: हिंदी पुस्तक वसंत में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की कविता ‘कदम मिलाकर चलना होगा’ शामिल की गई है। यह कविता केवल पढ़ने के लिए ही होगी।
कक्षा 11: संस्कृत में दो नए पाठ जोड़े गए हैं। एकादश: पाठ-‘स में प्रिय:’ और द्वादश: पाठ के रूप में ‘अथं शिक्षां प्रवक्ष्यामी’ पढ़ाया जाएगा।
कक्षा 12: संस्कृत में दो नए पाठ शामिल किए गए हैं। इसमें एकादश: पाठ ‘कार्याकार्य व्यवस्थिति:’ और द्वादश: पाठ ‘विद्यास्थानी’ शामिल है।

Loading...