शुक्रवार को सुबह सात से दोपहर एक बजे तक खुलेंगी आवश्यक चीजों की दुकानें

0

लॉकडाउन में आवश्यक वस्तुओं की खरीद के लिए सरकार शुक्रवार से समय बढ़ा रही है। आज जनता सुबह सात बजे से एक बजे तक आवश्यक वस्तुओं की खरीद के लिए घर से निकल सकते हैं लेकिन चार पहिया निजी वाहनों (आवश्यक सेवाओं को छोड़कर) पर पूरी तरह से प्रतिबंध रहेगा। दुपहिया वाहनों पर भी केवल एक व्यक्ति (राइडर) ही निकल सकता है। यह प्रयोग सरकार केवल शुक्रवार के लिए कर रही है। अगर व्यवस्था ठीक रही तो आगे भी इसे जारी रखा जाएगा।

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की अध्यक्षता में लॉकडाउन से पैदा हुए हालात को लेकर बृहस्पतिवार देर शाम उच्च अधिकारियों की बैठक हुई। इस बैठक में मुख्यमंत्री ने कई अहम निर्णय लिए। लॉकडाउन के दौरान जनता को आवश्यक वस्तुओं की खरीद के लिए सुबह सात बजे से दस बजे तक के समय को एक बजे तक बढ़ा दिया है। इस दौरान चार पहिया वाहनों पर पूर्ण प्रतिबंध लगा दिया है लेकिन आवश्यक सेवाओं में लगे चार पहिया वाहन चल सकेंगे। बैठक में मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह, डीजीपी अनिल कुमार रतूड़ी, सचिव नितेश झा, अमित नेगी और सुशील कुमार मौजूद रहे।

नई व्यवस्था में यह हैं प्रावधान
– सब्जी की ठेलियां इस दौरान मोहल्लों में जा सकेंगी
– दूध की सप्लाई दिनभर रहेगी सुचारु
– चार पहिया निजी वाहनों के संचालन पर पूर्ण प्रतिबंध
– फूड प्रोसेसिंग से संबंधित फैक्टरियां चलती रहेंगी
– छोटी आटा चक्कियों को भी खोलने की दी अनुमति
– थोक राशन सप्लाई दिनभर की जा सकेगी

आवश्यक वस्तुओं की खरीद के लिए तय व्यवस्था में यह सामने आ रहा था कि कम समय के चलते बाजार में ज्यादा भीड़ उमड़ रही है। इससे सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने में पुलिस को समस्या आ रही थी। हमने एक दिन के लिए समय को तीन घंटे के लिए बढ़ाया है। इसके साथ कुछ शर्तें लगाई हैं। अगर इसका सही से अनुपालन हुआ तो इसे जारी रखा जाएगा।
-मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत

Loading...