‘ग्रीन इकोनॉमी’ पर पांच मार्च को देहरादून में होगी बैठक, देश भर के विशेषज्ञ होंगे शामिल 

0

उत्तराखंड में लंबे समय की खामोशी के बाद अब ‘ग्रीन इकोनॉमी’ या सकल पर्यावरणीय उत्पाद (ग्रॉस एन्वायरमेंट प्रोडेक्ट) को लागू करने का मामला उभरकर सामने आया है। हैस्को के संस्थापक निदेशक और पद्मभूषण अनिल जोशी की इस मुहिम में राज्य सरकार भी सहयोग को तैयार है। 

 

पांच मार्च को इसी सिलसिले में भारतीय वन्य जीव संस्थान में केंद्र, राज्य और हैस्को की संयुक्त बैठक होगी। प्रदेश में जीईपी को लागू करने के लिए हैस्को लंबे समय से काम कर रहा है। डा. अनिल जोशी के मुताबिक जीईपी का खाका तैयार करने के लिए कई संस्थाओं का सहयोग लिया जा रहा है। प्रमुख सचिव वन आनंद बर्द्धन ने हैस्को का दौरा किया।

इस दौरान डा. अनिल जोशी और प्रमुख सचिव वन के बीच जीईपी को लेकर भी बातचीत हुई। प्रमुख सचिव के मुताबिक हैस्को की इस मुहिम का राज्य सरकार पूरा सहयोग कर रही है। डा. अनिल जोशी ने बताया कि जीईपी का खाका तैयार करने के लिए पांच मार्च को दून में केंद्र, राज्य और हैस्को की संयुक्त बैठक होगी। इस बैठक में प्रधानमंत्री के सलाहकार विजय राघवन सहित देश भर के विशेषज्ञ शामिल होंगे।

Loading...