कुम्भ2021: सुरक्षा को देखते हुए हरिद्वार में हवाई यात्रा पर लगाया प्रतिबंध

अप्रैल में होने वाले शाही स्नानों पर सुरक्षा को देखते हुए पांच दिनों तक धर्मनगरी में हवाई यात्रा पर प्रतिबंध लगाया गया है। यह प्रतिबंध हरिद्वार के कोर जोन में रहेगा। 5 किलोमीटर के कोर जोन में प्रशासन के अलावा कोई भी ड्रोन नहीं उड़ा सकेगा। नागरिक उड्डयन मंत्रालय को भी पत्र भेजा गया है।

12 और 14 अप्रैल को होने वाले शाही स्नान में करोड़ों की संख्या में श्रद्धालुओं के आने का अनुमान लगाया जा रहा है। इसी को ध्यान में रखते हुए व्यवस्थाएं की जा रही हैं। सुरक्षा के लिहाजा 40 पैरामिलिट्री फोर्स के साथ ही 15 हजार से अधिक पुलिसकर्मियों की ड्यूटियां लगाई जा रही हैं।

ऑर्टिफिशियल इंटेलिजेंस सॉफ्टवेयर के अलावा तमाम सुरक्षा के प्रबंध किए गए हैं। हरकी पैड़ी के आसपास कोर जोन में सुरक्षा को देखते हुए हवाई यात्रा भी प्रतिबंध की गई है।

मेला पुलिस ने नागरिक उड्डयन मंत्रालय को भी चिट्टी भेज दी है। 10 से 14 अप्रैल तक प्रतिबंध रहेगा। 12 अप्रैल को सोमवती अमावस्या और 14 अप्रैल को बैशाखी का स्नान होना तय है। हरिद्वार में होने वाले कुंभ में बैशाखी के शाही स्नान को मुख्य शाही स्नान माना जाता है। क्योंकि इस दिन सबसे अधिक भीड़ हरिद्वार में जुटती है।

यह है कोर जोन
कोर जोन में मुख्य रूप से हरकी पैड़ी के साथ ही शंकराचार्य चौक से लेकर भीमगोड़ा तक के हिस्सों को शामिल किया गया है।

सुरक्षा के दृष्टिगत हवाई यात्रा पर प्रतिबंध का फैसला लिया गया है। शाही स्नान पर हवाई यात्रा प्रतिबंध रहेगी।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed